इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए सर्वोत्तम दवा क्या है | Best medicine for ED in hindi

Erection आना एक पुरुष के लिए बहुत जरुरी होता है | अगर इरेक्शन नहीं आ रहा हो यानि आपका लिंग उत्तेजित नहीं हो रहा हो तो यह इरेक्टाइल डिसफंक्शन का लक्षण हो सकता है | erectile dysfunction एक जटिल यौन रोग है | यह समस्या अगर गंभीर हो जाये तो नपुंसकता बन जाती है जिसमे पुरुष यौन संबंध बनाने में पूरी तरह नाकाम हो जाता है | वर्तमान में बिगडती जीवनशैली, नशे की अधिकता एवं विकृत मानसिकता के कारण यह समस्या बहुत अधिक देखने को मिलती है | युवावस्था में ही बहुत से युवाओं को इरेक्शन नहीं आने की समस्या देखने को मिलती है |

इस लेख में हम Erectile dysfunction को ठीक करने के लिए सबसे उत्तम (सर्वोतम) दवा और उनको उपयोग करने का सही तरीका क्या है इसके बारे में विस्तार से बतायेंगे |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन क्या है / कारण / सर्वोतम दवा / उपयोग का तरीका (all about erectile dysfunction in hindi)

यौन समस्याएं बहुत से प्रकार की होती हैं जैसे :-

  • धात गिरने की समस्या
  • शीघ्रपतन (Premature ejaculation)
  • नपुंसकता (erectile dysfunction)
  • स्वपन दोष (Nightfall)
  • ढीलापन (loose erection)
  • कामेच्छा में कमी

इन सभी समस्याओं में सबसे जटिल इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या होती है | इसमें कामेच्छा होने के बावजूद पेनिस में इरेक्शन नहीं आता है या बहुत कम आता है | आजकल कम उम्र में भी बहुत से युवाओं को यह समस्या देखने को मिलती है | समय रहते और उचित इलाज न किया जाये तो व्यक्ति पुर्णतः नपुंसक हो सकता है |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए सर्वोत्तम दवा क्या है
इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए सर्वोत्तम दवा क्या है

इरेक्टाइल डिसफंक्शन क्या है in hindi ?

अगर आप 17 से 70 वर्ष की आयु वाले हैं और आपके पेनिस (लिंग) में erection नहीं आ रहा है तो हो सकता है आप इरेक्टाइल डिसफंक्शन से पीड़ित हैं | यह वो अवस्था है जब मन करने के बाद भी लिंग में उत्तेजना (इरेक्शन) नहीं आता है या बहुत कम आता है जिससे आप महिला के साथ संबंध बनाने में नाकाम रहते हैं |

यह समस्या धीरे धीरे शुरू होती है | नसों में कमजोरी की वजह से पहले loose इरेक्शन आना शुरू होता है ढीलापन रहता है और फिर लास्ट में पूरी तरह इरेक्शन आना बंद हो जाता है | यानि आप कितने भी कामोत्तेजित हो जायें आपके पेनिस में बिलकुल भी तनाव नहीं आएगा | ऐसा होने पर यह रोग लगभग असाध्य हो जाता है | इसलिए शुरू से ही सर्वोतम दवा का उपयोग करके इसका इलाज कर लेना चाहिए |

Erectile dysfunction के कारण क्या हैं (Causes in hindi) ?

यह कमजोरी बहुत से कारणों का नतीजा है | निचे बताये गये कारणों से आपको इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या हो सकती है :-

  • अत्यधिक नशे के कारण
  • हार्मोन्स में असंतुलन के कारण
  • अत्यधिक हस्तमैथुन की आदत से
  • मानसिक कारणों से
  • डायबिटीज / हाईबीपी जैसे लाइफस्टाइल रोगों के कारण
  • बहुत समय तक बीमार रहने से
  • किसी दवा के दुष्प्रभाव के कारण
  • वियाग्रा जैसे ड्रग्स का उपयोग करने से

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए सर्वोत्तम दवा क्या है (Best medicine for ED in hindi) ?

जितने भी यौन रोग है हैं सबके लिए आयुर्वेदिक इलाज और दवा ही सर्वोत्तम साबित होते हैं क्योंकि यह समस्या पर जड़ से काम करती हैं और इनका कोई दुष्प्रभाव भी नहीं होता है | आयुर्वेद में वाजीकरण में इन सभी दवाओं का उल्लेख मिलता है | वाजीकरण शाखा में हजारों ऐसी दवाओं का वर्णन है जिनका उपयोग करके घोड़े जैसी यौन शक्ति प्राप्त की जा सकती है |

erectile dysfuction जैसे जटिल रोग को ठीक करने के लिए वाजीकरण में वर्णित सर्वोत्तम या सबसे अच्छी दवाओं की सूचि (list) हमने तैयार की है |

Best medicine for erectile dysfunction in hindi / इरेक्टाइल डिसफंक्शन की सर्वोत्तम दवा की लिस्ट :-

  • वृष्य गुटिका (vrishya gutika)
  • वाजीकरण घृतं (vajikaran ghritam)
  • व्रह्नी गुटिका (vrahni gutika)
  • श्री गोपाल तेल (shreegopal oil)
  • महानारायण तेल (mahanarayanoil)
  • कपिकच्छु पाक
  • कामसुधा योग (kamsudha yog)
  • कामेश्वर मोदक (kameshwar modak)
  • उपत्याकारी शाश्तिकादि गुटिका (upatyakari shashtikadi gutika)
  • मेदादी योग (medadi yog)
  • त्रिवंग भस्म (trivang bhasm)
  • असगंध अवलेह (asgandh avleha)
  • वसंत कुसुमाकर रस (vasant kusumakar ras)

इरेक्टाइल डिसफंक्शन की सबसे अच्छी दवा के उपयोग का तरीका (How to use in hindi)

आयुर्वेद में दवा का चयन रोगी की प्रकृति और रोग की अवस्था के साथ त्रिदोष, ऋतू और प्रभाव देख कर किया जाता है | उपर बतायी गयी औषधियां इरेक्टाइल डिसफंक्शन की सर्वोत्तम दवाओं में से एक हैं लेकिन आपके लिए कौनसी दवा सबसे अच्छी होगी इसके लिए आपके शरीर की प्रकृति और अन्य जानकारी बहुत आवश्यक होती है |

अगर आप इरेक्शन की समस्या से झुझ रहें है और कोई दवा आप पर असर नहीं कर रही है तो आयुर्वेद चिकित्सक को अपने शरीर का परिक्षण करवा कर बतायी गयी दवा का सेवन करें | यह आपके लिए सबसे अच्छी दवा का काम करेगी | इसके साथ ही पथ्य अपथ्य और योग व्यायाम का भी जरूर ध्यान रखें |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए योग (yoga for ED in hindi)

योग प्राणायाम सभी रोगों में राहत देते हैं | अगर आप नित्य योग प्राणायाम करें तो बहुत से रोगों और कमजोरियों से बच सकते हैं | यौन कमजोरियों को दूर करने के लिए कुछ विशेष योगासनों का उपयोग किया जाता है | इरेक्टाइल डिसफंक्शन जैसी समस्या में दवा के साथ यह योग करना सर्वोत्तम रहता है |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन के लिए योग :-

धनुरासन – इरेक्शन की समस्या होने पर आयुर्वेद दवा के साथ यह योगासन करना गुणकारी होता है | इस आसन से कामेच्छा में वृद्धि होती है एवं इरेक्शन की समस्या में लाभ मिलता है |

मयूरासन – गुर्दे, आमाशय और पाचन की समस्याओं के लिए यह योगासन बहुत लाभकारी होता है | इरेक्टाइल डिसफंक्शन होने पर इस आसन को रोज करें | योग का यह आसन इरेक्शन बढाने में मदद करता है |

पश्चिमोतानासन – यह योग आसन कामोत्तेजना बढ़ाने, नसों की मजबूती और शीघ्रपतन में लाभदायक होता है | इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या में व्रह्नी गुटिका, कामसुधा योग जैसी दवाओं का सेवन करने के साथ इस आसन को करना बहुत फायदेमंद रहता है |

इरेक्टाइल डिसफंक्शन की कौन सी दवा सबसे अच्छी है (Best in all ) ?

आधुनिक समय में इरेक्शन नहीं आने की समस्या में वियाग्रा जैसे हानिकारक ड्रग्स का बहुत अधिक उपयोग हो रहा है | यह एक बार तो काम करते हैं लेकिन अधिक समय तक लेने पर पुर्णतः नपुंसकता का कारण बनते हैं | इसकी बजाय वाजीकरण औषधियां बहुत सुरक्षित होती हैं एवं जड़ी बूटियों के गुणों के कारण समस्या को जड़ से ख़त्म करने का कार्य करती हैं | अगर आप सबसे अच्छी दवा की बात करे तो कामसुधा योग, श्रीगोपाल तेल, कपिकच्छु पाक, मेदादी योग आदि इरेक्टाइल प्रॉब्लम में सबसे जल्दी असर करती हैं और सुरक्षित भी हैं |

धन्यवाद ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *