पेरासिटामोल का आयुर्वेदिक विकल्प अपनाएं और साइड इफेक्ट्स से बचें !

मैं आयुर्वेदिक उपवैद्य हूँ | लगभग 8 वर्षों से विभिन्न आयुर्वेदिक दवा कंपनियों एवं आयुर्वेदिक हॉस्पिटल्स में कार्य...

Continue reading

दाह रोग क्या है ? जानें इसकी चिकित्सा एवं प्रकार

दाह रोग से तात्पर्य शरीर में किसी अंग या सम्पूर्ण शरीर में होने वाली जलन से है | इसे सामान्य भाषा में जलन कहा जात...

Continue reading

विसर्प रोग क्या है / Erysipelas in Hindi

विसर्प रोग / Visarpa in Hindi - यह एक त्वचा का संक्रामक रोग है जिसमे त्वचा पर संक्रमण होकर लाल चकते हो जाते है | ...

Continue reading

रक्तपित्त रोग क्या है ? What is Raktpitta in Hindi Definition

हमारे गलत खान - पान एवं शरीर में अधिक उष्णता के कारण रक्त शरीर से बाहर निकलने लगता है | यह रक्त नाक से, मूत्र मार...

Continue reading

विजयसार जड़ी – बूटी (Vijaysar in Hindi) – फायदे एवं रोगोपयोग

विजयसार क्या है / What is Vijaysar in Hindi - विजयसार एक औषधीय पौधा है जो 15 फ़ीट तक ऊँचा होता है | यह भारत में गु...

Continue reading

यष्टिमधु (मुलेठी) के औषधीय गुण धर्म एवं रोगोपयोग

यष्टिमधु को मुलेठी, जेठीमध या जेष्ठीमध आदि नामों से भी जाना जाता है | यह आयुर्वेदिक औषधीय जड़ी - बूटी है जिसका प्र...

Continue reading

निशोथ / Operculina turpethum – औषधीय गुण एवं फायदे

निशोथ बहुवर्षायु औषधीय लता है | यह तीव्र विरेचक गुणों से युक्त आयुर्वेदिक औषधीय वनस्पति है | इसे त्रिवृत, निसोत, ...

Continue reading

हरीतकी (chebulic myrobalan) के आयुर्वेदिक गुण – धर्म एवं फायदे, उपयोग

हरीतकी आयुर्वेदिक औषधीय जड़ी - बूटी है | इसे हिंदी में हर्रा, हरड एवं हर्रे आदि नामों से जाना जाता है | यह पाचन वि...

Continue reading

लौह भस्म – निर्माण विधि, उपयोग एवं सावधानियां

आयुर्वेद चिकित्सा शास्त्र में भस्मों के द्वारा उपचार की विधा संहिता काल से ही चली आ रही है | भस्मों का अगर सम्यक ...

Continue reading