नौसादर (ammonium chloride) के उपयोग एवं शोधन की विधि

आयुर्वेद में नौसादर का उपयोग सैंकड़ो सालों से होते आया है | लगभग आठवी शताब्दी से यह द्रव्य चिकित्सार्थ प्रचलन में ...

Continue reading

जानें प्रवाल पिष्टी कैसे बनती है ?

प्रवाल पिष्टी प्रवाल अर्थात जिसे मूंगा (Corallium Rubrum) भी कहते से बनने वाली एक आयुर्वेदिक दवा है | यह अत्यंत ठ...

Continue reading

हरताल का शोधन – मारण एवं स्वास्थ्य उपयोग

हरताल जिसे अंग्रेजी में Arsenic Trisulfide कहते है | यह एक धात्विक खनिज पदार्थ है | आयुर्वेद चिकित्सा शास्त्रों म...

Continue reading

नागरबेल क्या है ? जानें इसके फायदे एवं स्वास्थ्य लाभ

नागरबेल को नागर बेल का पान, ताम्बुल या बंगला पान आदि नामों से भी जाना जाता है | साधारण भाषा में इसे पान कहते है ज...

Continue reading

चित्रक हरीतकी अवलेह बनाने की विधि, घटक द्रव्य एवं इसके फायदे

चित्रक हरीतकी अवलेह आयुर्वेद की शास्त्रोक्त औषधि है | इसे आयुर्वेदिक ग्रन्थ भैषज्य रत्नावली के नासरोगाधिकार से लि...

Continue reading

नौसादर विभिन्न रोगों में उपयोगी आयुर्वेदिक औषधि

नौसादर एक सफ़ेद रंग का दानेदार लवण द्रव्य है | यह करीर और पीलू आदि वृक्षों के कोष्ठों को जलाने पर क्षार के रूप में...

Continue reading

पारद क्या है ? इसके भेद, दोष एवं पारद शोधन की विधि

पारद खनिज पदार्थों में गिना जाता है | यह अन्य धातु मिश्रित एवं मुक्त दोनों अवस्थाओं में प्राप्त होता है | हमारे प...

Continue reading

कालमेघ

कालमेघ (Green Chireta) के आयुर्वेदिक औषधीय गुण एवं फायदे |

कालमेघ जिसे हम ग्रीन चिरायता या Green Chireta भी कहते है | यह एक पुरातन भारतीय औषधीय पौधा है जिसका इस्तेमाल प्राच...

Continue reading

मलेरिया बुखार की आयुर्वेदिक दवा एवं औषधियां

मलेरिया बुखार कैसे होता है ? - मलेरिया बुखार मादा मच्छर एनोफ़िलिज के काटने से होता है | यह एक संक्रामक रोग है, जो ...

Continue reading

दर्द निवारक तेल

दर्द निवारक तेल – घर पर बनायें ! जोड़ों के दर्द, कमर दर्द एवं मांसपेशियों के दर्द से छुटकारा पायें

बाज़ार में कई कंपनियों के दर्द निवारक तेल आसानी से उपलब्ध हो जाते है, लेकिन ये कितने कारगर है कोई निश्चित परिणाम उ...

Continue reading