वेदनान्तक रस (Vedanantaka Ras) दर्द की आयुर्वेदिक दवा |

यह एक शास्त्रोक्त आयुर्वेदिक औषधि है | इसका उपयोग दर्द निवारण के लिए किया जाता है | शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द होने पर इस दवा का सेवन करने पर तुरंत लाभ मिलता है | नींद न आने पर भी इसका सेवन बहुत उपयोगी साबित होता है | इसके सेवन से गहर और अच्छी नींद आती है |

वेदनान्तक रस
वेदनान्तक रस

वेदनान्तक रस क्या है, घटक द्रव्य एवं बनाने की विधि |

यह रस रसायन प्रकरण की आयुर्वेदिक औषधि है, जिसका उपयोग दर्द कम करने के लिए किया जाता है | जब शरीर के किसी हिस्से या अंग में विशेष वेदना हो तो इसका उपयोग किया जाता है | इसके उपयोग से दर्द तुरंत कम हो जाता है | आइये जानते हैं इसके घटक द्रव्य :-

घटक द्रव्य / Required Herbs :-

  • शुद्ध अफीम – 3 माशा
  • कपूर – 3 माशा
  • खुरासिनी अजवायन – 3 माशा (महीन चूर्ण)
  • रस सिंदूर – 6 माशा
  • भांग की पत्तियों का रस – घोंटने के लिए

वेदनान्तक रस बनाने की विधि / Preparation of Vedanantaka Ras

यह रसायन प्रकरण की औषधि है | इसे बनाने के लिए निम्न विधि का उपयोग किया जाता है :-

  • सबसे पहले खुरासिनी अजवायन को अच्छे से पीस कर चूर्ण बना लें |
  • इस चूर्ण को कपड़छान कर लें |
  • अब रस सिंदूर को महीन पिस लें |
  • अफीम को पानी में घोल दें |
  • इसमें रस सिंदूर, अजवान चूर्ण एवं कपूर को मिला लें |
  • अब इस मिश्रण में भांग की पत्तियों का रस मिला कर घोंट लें |
  • जब यह गाढ़ा हो जाये तो इसकी छोटी छोटी गोलियां बना लें |
  • इन गोलियों को सुखा लें |
  • इस तरह से वेदनान्तक रस बन के तैयार हो जाता है |

वेदनान्तक रस के फायदे एवं उपयोग !

जैसा उपर बताया है यह एक दर्दनाशक आयुर्वेदिक औषधि है | इसका वातवाहिनी नाड़ी पर विशेष असर होता है | इसलिए वात के कारण उत्पन्न विकारों में इसका उपयोग अधिक किया जाता है | जब वाट प्रकोप के कारण वातवाहिनी नाडी में खिंचाव आ जाता है तो इससे बहुत वेदना होती है | ऐसी अवस्था में वेदनान्तक रस बहुत लाभदायी सिद्ध होता है |

वेदनान्तक रस के फायदे
वेदनान्तक रस के फायदे

कभी कभी वात विकारों के कारण हाथ पैर, गर्दन, पीठ एवं सर में बहुत तेज दर्द होता है | इस रसायन के उपयोग से दर्द तुरंत कम हो जाता है | आइये जानते हैं इसके फायदे :-

  • शरीर के किसी भी भाग में कितना भी दर्द क्यों न हो इसके सेवन से नष्ट हो जाता है |
  • वात विकारों में यह अत्यंत फायदेमंद दवा है |
  • सर दर्द, बदन दर्द एवं कमर दर्द इसके सेवन से ठीक हो जाता है |
  • यह शुक्र वर्धक एवं स्तंभक भी है |
  • इसके सेवन से वीर्य गाढ़ा होता है एवं शरीर भी बलवान हो जाता है |
  • नींद नहीं आने पर भी इसका उपयोग किया जाता है |
  • निद्रा लाने के लिए यह प्रमोतम रसायन है |
  • वात विकार के कारण उत्पन्न उन्माद में इसका सेवन करने से बहुत लाभ होता है |

नुकसान एवं सावधानियां / Side Effects and Precautions

दर्द के लिए वेदनान्तक रस बहुत ही उत्तम औषधि है | लेकिन इसका उपयोग विशेष वेदना (अधिक दर्द) होने पर ही करना चाहिए एवं अधिक समय तक इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें अफीम की मात्रा होती है | ज्यादा समय तक उपयोग करने से इसकी लत लग सकती है |

धन्यवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

जानें आहार के 15 नियम हमेंशा इनका पालन करके ही आहार ग्रहण करना चाहिए

प्रत्येक व्यक्ति के लिए ये नियम लागु होते है इन्हें सभी को अपनाना चाहिए पढ़ें अधिक 

Open chat
Hello
Can We Help You