वेदनान्तक रस (Vedanantaka Ras) दर्द की आयुर्वेदिक दवा |

यह एक शास्त्रोक्त आयुर्वेदिक औषधि है | इसका उपयोग दर्द निवारण के लिए किया जाता है | शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द होने पर इस दवा का सेवन करने पर तुरंत लाभ मिलता है | नींद न आने पर भी इसका सेवन बहुत उपयोगी साबित होता है | इसके सेवन से गहर और अच्छी नींद आती है |

वेदनान्तक रस
वेदनान्तक रस

वेदनान्तक रस क्या है, घटक द्रव्य एवं बनाने की विधि |

यह रस रसायन प्रकरण की आयुर्वेदिक औषधि है, जिसका उपयोग दर्द कम करने के लिए किया जाता है | जब शरीर के किसी हिस्से या अंग में विशेष वेदना हो तो इसका उपयोग किया जाता है | इसके उपयोग से दर्द तुरंत कम हो जाता है | आइये जानते हैं इसके घटक द्रव्य :-

घटक द्रव्य / Required Herbs :-

  • शुद्ध अफीम – 3 माशा
  • कपूर – 3 माशा
  • खुरासिनी अजवायन – 3 माशा (महीन चूर्ण)
  • रस सिंदूर – 6 माशा
  • भांग की पत्तियों का रस – घोंटने के लिए

वेदनान्तक रस बनाने की विधि / Preparation of Vedanantaka Ras

यह रसायन प्रकरण की औषधि है | इसे बनाने के लिए निम्न विधि का उपयोग किया जाता है :-

  • सबसे पहले खुरासिनी अजवायन को अच्छे से पीस कर चूर्ण बना लें |
  • इस चूर्ण को कपड़छान कर लें |
  • अब रस सिंदूर को महीन पिस लें |
  • अफीम को पानी में घोल दें |
  • इसमें रस सिंदूर, अजवान चूर्ण एवं कपूर को मिला लें |
  • अब इस मिश्रण में भांग की पत्तियों का रस मिला कर घोंट लें |
  • जब यह गाढ़ा हो जाये तो इसकी छोटी छोटी गोलियां बना लें |
  • इन गोलियों को सुखा लें |
  • इस तरह से वेदनान्तक रस बन के तैयार हो जाता है |

वेदनान्तक रस के फायदे एवं उपयोग !

जैसा उपर बताया है यह एक दर्दनाशक आयुर्वेदिक औषधि है | इसका वातवाहिनी नाड़ी पर विशेष असर होता है | इसलिए वात के कारण उत्पन्न विकारों में इसका उपयोग अधिक किया जाता है | जब वाट प्रकोप के कारण वातवाहिनी नाडी में खिंचाव आ जाता है तो इससे बहुत वेदना होती है | ऐसी अवस्था में वेदनान्तक रस बहुत लाभदायी सिद्ध होता है |

वेदनान्तक रस के फायदे
वेदनान्तक रस के फायदे

कभी कभी वात विकारों के कारण हाथ पैर, गर्दन, पीठ एवं सर में बहुत तेज दर्द होता है | इस रसायन के उपयोग से दर्द तुरंत कम हो जाता है | आइये जानते हैं इसके फायदे :-

  • शरीर के किसी भी भाग में कितना भी दर्द क्यों न हो इसके सेवन से नष्ट हो जाता है |
  • वात विकारों में यह अत्यंत फायदेमंद दवा है |
  • सर दर्द, बदन दर्द एवं कमर दर्द इसके सेवन से ठीक हो जाता है |
  • यह शुक्र वर्धक एवं स्तंभक भी है |
  • इसके सेवन से वीर्य गाढ़ा होता है एवं शरीर भी बलवान हो जाता है |
  • नींद नहीं आने पर भी इसका उपयोग किया जाता है |
  • निद्रा लाने के लिए यह प्रमोतम रसायन है |
  • वात विकार के कारण उत्पन्न उन्माद में इसका सेवन करने से बहुत लाभ होता है |

नुकसान एवं सावधानियां / Side Effects and Precautions

दर्द के लिए वेदनान्तक रस बहुत ही उत्तम औषधि है | लेकिन इसका उपयोग विशेष वेदना (अधिक दर्द) होने पर ही करना चाहिए एवं अधिक समय तक इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें अफीम की मात्रा होती है | ज्यादा समय तक उपयोग करने से इसकी लत लग सकती है |

धन्यवाद !

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      स्वदेशी उपचार
      Logo
      Open chat
      Hello
      Can We Help You