गरदन का दर्द – अगर आप भी है परेशान तो कंही जाने की जरुरत नहीं पढ़े ये नुस्खे

गर्दन दर्द के घरेलु उपचार 

garadan dard


गरदन का दर्द आजकल आम समस्या हो गई है जो कभी भी किसी को भी हो सकती है | गरदन दर्द होने पर हम अपनी गरदन भी नहीं घुमा सकते क्योकि गरदन घुमाने से अधिक दर्द होता है | इसका मुख्य कारण है हमारा उठना – बैठना और सोने का तरीका | जब गरदन एक ही तरफ करके बैठे रहते है या रात में एक ही तरफ करवट कर के सोते है तो गरदन अकड़ जाती है और गरदन में दर्द शुरू हो जाता है |  गरदन में दर्द सर्वाइकल या नसों में खिंचाव आने से भी हो सकता है | गरदन दर्द के बहुत से कारण हो सकते है जैसे सिर पर अधिक वजन उठाना , गलत पोजीशन में सोना , अधिक देर तक एक ही तरफ मुंह करके बैठे रहना, अधिक ऊँचा तकिया सिर के निचे लगाना आदि | आज हम गरदन के दर्द में उपयोगी घरेलु नुस्खो के बारे में बताएँगे जिनका सही इस्तेमाल करने  आप निश्चित ही राहत  महसूस करेंगे |

गर्दन दर्द में अपनाये ये उपाय 

 

  • मेथी के दानों को पीसकर लेप तैयार कर ले | फिर इस लेप गरदन पर सुबह – शाम लगाये | दर्द में आराम मिलेगा |
  • अश्वगंधा और सोंठ को मिला कर पिस ले , इस चूर्ण को 5 ग्राम की मात्रा में सुबह – शाम दूध के साथ सेवन करे |
  • एक पोटली में अजवायन और जरा सी हिंग बांध ले | फिर इसे तवे पर हल्का गरम करे और इससे गरदन की सिकाई करे | तुरंत रहत मिलेगी |
  • अश्वगंधा के पते, निर्गुन्डी के पते , आक के थोड़े से पत्ते, धतूरे के पते इन सभी के हरे पतों को छोटा – छोटा काटले अब एक कडाही में तील का तेल गरम करे इसमें थोडा सा सेंधा नमक और मेथी का एक चम्मच पाउडर डाले और बारीक़ काटे हुए पतों को इस तेल में फ्राई कर ले | अच्छी तरह फ्राई करने के बाद तेल में से इनको निकाल कर एक सूती कपडे की पोटली में इनको बांध ले | अब बचे हुए तेल को थोड़ी सी मात्रा में तवे पर डाले और इस पोटली को हल्का गरम करते रहे | हलकी गरम पोटली से गरदन पर मालिश करे | जल्दी ही आपको गर्दन के दर्द में आराम मिलेगा |
  • सरसों के तेल में चार – पञ्च लौंग डाल कर उसे अच्छी तरह पक्का ले | इस तेल से गरदन के चारो तरफ मालिश करे ,आराम मिलेगा |
  • एरंड के बीजो के अन्दर की गिरी 5 ग्राम की मात्रा में निकाल ले , इसे दूध के साथ पिस कर रोगी को सोते समय पिलाये | इससे गरदन दर्द और कमर दर्द में आराम मिलता है  |
  • पपीते के ताजे हरे पते को आंच पर थोडा गरम करे अब इस पर सरसों का तेल चुपड़ दे | इसे गरम – गरम ही गर्दन पर बांधे | गर्दन की जकड़न दूर होगी व् दर्द में भी आराम मिलेगा |
  • जायफल भी गरदन के दर्द में लाभ करी है | जायफल को पीसकर गरदन पर इसका लेप करे , राहत मिलेगी |
गरदन दर्द में क्या करे और क्या न करे !
  • भारी वजन उठाने से बचे , शरीर का भार घुटनों पर ना उठा कर पीठ के बल उठाने की कोशिश करे | इससे आपको गर्दन दर्द होने की शिकायत नहीं होगी |
  • तकिये का इस्तेमाल बिलकुल ना करे और सोते समय कुश आसन का प्रयोग करे |
  • कंप्यूटर आदि का इस्तेमाल करते समय ध्यान रखे की इसकी स्क्रीन आपके आँखों के एकदम सीध में हो और अपनी बैठने की स्थिति भी थोड़े समय बाद बदलते रहे |
  • नित्य व्यायाम एवं योग जरुर करे |
  • गरदन दर्द में हमेशा खड़े हो तो  बिलकुल सीधे खड़े हो | इससे आपको दर्द की शिकायत नहीं होगी एवं दर्द और बढेगा भी नहीं |
  • शरीर को झुका कर कोई भी काम ना करे , अपने भोजन में संतुलित आहार और विटामिन डी , कैल्शियम , फास्फोरस आदि की अधिकता वाले  खाद्य पदार्थो का सेवन करे |
धन्यवाद  |

Related Post

आखिर क्यों पहनती है विवाहित महिलाये चाँदी की पायल ... चूड़ी, पायल और बिछिया पहनने के पीछे है वैज्ञानिक कारण | सम्पूर्ण भारत में विवाहित स्त्रियाँ विभिन्न धर्मो के अनुसार अपने सोलह श्रंगार करने में अलग...
पितकफज प्रकृति – एक परिचय... पित  कफज प्रकृति  पित - कफज  प्रकृति में अगर पित प्रकृति और काफ प्रकृति दोनों के कोई दो - दो गुण मिल रहे है तो यह समायोजित प्रकृ...
अदरक के 15 फायदे जान ले – काम आयेंगे... अदरक (Zingiber officinale) अदरक ( आर्द्रक ) का अर्थ है - नमी की रक्षा करने वाली | अदरक जिन्जिबेरेशी कुल का पौधा है | ज्यादातर यह उष्णकटीबंध या शी...
खैर (खदिर) / Acacia catechu – परिचय, गुण एवं... खैर (खदिर) / Acacia Catechu in Hindi प्राय: सम्पूर्ण भारत में पाया जाने वाला एक जंगली वृक्ष है | भारत में उत्तरप्रदेश, बिहार, पंजाब, हरियाणा और राजस्...
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.