गरदन का दर्द – अगर आप भी है परेशान तो कंही जाने की जरुरत नहीं पढ़े ये नुस्खे

Deal Score0
Deal Score0

गर्दन दर्द के घरेलु उपचार 

garadan dard


गरदन का दर्द आजकल आम समस्या हो गई है जो कभी भी किसी को भी हो सकती है | गरदन दर्द होने पर हम अपनी गरदन भी नहीं घुमा सकते क्योकि गरदन घुमाने से अधिक दर्द होता है | इसका मुख्य कारण है हमारा उठना – बैठना और सोने का तरीका | जब गरदन एक ही तरफ करके बैठे रहते है या रात में एक ही तरफ करवट कर के सोते है तो गरदन अकड़ जाती है और गरदन में दर्द शुरू हो जाता है |  गरदन में दर्द सर्वाइकल या नसों में खिंचाव आने से भी हो सकता है | गरदन दर्द के बहुत से कारण हो सकते है जैसे सिर पर अधिक वजन उठाना , गलत पोजीशन में सोना , अधिक देर तक एक ही तरफ मुंह करके बैठे रहना, अधिक ऊँचा तकिया सिर के निचे लगाना आदि | आज हम गरदन के दर्द में उपयोगी घरेलु नुस्खो के बारे में बताएँगे जिनका सही इस्तेमाल करने  आप निश्चित ही राहत  महसूस करेंगे |

गर्दन दर्द में अपनाये ये उपाय 

 

  • मेथी के दानों को पीसकर लेप तैयार कर ले | फिर इस लेप गरदन पर सुबह – शाम लगाये | दर्द में आराम मिलेगा |
  • अश्वगंधा और सोंठ को मिला कर पिस ले , इस चूर्ण को 5 ग्राम की मात्रा में सुबह – शाम दूध के साथ सेवन करे |
  • एक पोटली में अजवायन और जरा सी हिंग बांध ले | फिर इसे तवे पर हल्का गरम करे और इससे गरदन की सिकाई करे | तुरंत रहत मिलेगी |
  • अश्वगंधा के पते, निर्गुन्डी के पते , आक के थोड़े से पत्ते, धतूरे के पते इन सभी के हरे पतों को छोटा – छोटा काटले अब एक कडाही में तील का तेल गरम करे इसमें थोडा सा सेंधा नमक और मेथी का एक चम्मच पाउडर डाले और बारीक़ काटे हुए पतों को इस तेल में फ्राई कर ले | अच्छी तरह फ्राई करने के बाद तेल में से इनको निकाल कर एक सूती कपडे की पोटली में इनको बांध ले | अब बचे हुए तेल को थोड़ी सी मात्रा में तवे पर डाले और इस पोटली को हल्का गरम करते रहे | हलकी गरम पोटली से गरदन पर मालिश करे | जल्दी ही आपको गर्दन के दर्द में आराम मिलेगा |
  • सरसों के तेल में चार – पञ्च लौंग डाल कर उसे अच्छी तरह पक्का ले | इस तेल से गरदन के चारो तरफ मालिश करे ,आराम मिलेगा |
  • एरंड के बीजो के अन्दर की गिरी 5 ग्राम की मात्रा में निकाल ले , इसे दूध के साथ पिस कर रोगी को सोते समय पिलाये | इससे गरदन दर्द और कमर दर्द में आराम मिलता है  |
  • पपीते के ताजे हरे पते को आंच पर थोडा गरम करे अब इस पर सरसों का तेल चुपड़ दे | इसे गरम – गरम ही गर्दन पर बांधे | गर्दन की जकड़न दूर होगी व् दर्द में भी आराम मिलेगा |
  • जायफल भी गरदन के दर्द में लाभ करी है | जायफल को पीसकर गरदन पर इसका लेप करे , राहत मिलेगी |
गरदन दर्द में क्या करे और क्या न करे !
  • भारी वजन उठाने से बचे , शरीर का भार घुटनों पर ना उठा कर पीठ के बल उठाने की कोशिश करे | इससे आपको गर्दन दर्द होने की शिकायत नहीं होगी |
  • तकिये का इस्तेमाल बिलकुल ना करे और सोते समय कुश आसन का प्रयोग करे |
  • कंप्यूटर आदि का इस्तेमाल करते समय ध्यान रखे की इसकी स्क्रीन आपके आँखों के एकदम सीध में हो और अपनी बैठने की स्थिति भी थोड़े समय बाद बदलते रहे |
  • नित्य व्यायाम एवं योग जरुर करे |
  • गरदन दर्द में हमेशा खड़े हो तो  बिलकुल सीधे खड़े हो | इससे आपको दर्द की शिकायत नहीं होगी एवं दर्द और बढेगा भी नहीं |
  • शरीर को झुका कर कोई भी काम ना करे , अपने भोजन में संतुलित आहार और विटामिन डी , कैल्शियम , फास्फोरस आदि की अधिकता वाले  खाद्य पदार्थो का सेवन करे |
धन्यवाद  |

Avatar

स्वदेशी उपचार आयुर्वेद को समर्पित वेब पोर्टल है | यहाँ हम आयुर्वेद से सम्बंधित शास्त्रोक्त जानकारियां आम लोगों तक पहुंचाते है | वेबसाइट में उपलब्ध प्रत्येक लेख एक्सपर्ट आयुर्वेदिक चिकित्सकों, फार्मासिस्ट (आयुर्वेदिक) एवं अन्य आयुर्वेद विशेषज्ञों द्वारा लिखा जाता है | हमारा मुख्य उद्देश्य आयुर्वेद के माध्यम से सेहत से जुडी सटीक जानकारी आप लोगों तक पहुँचाना है |

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      Logo
      Compare items
      • Total (0)
      Compare
      0