प्राणदा गुटिका : बवासीर की सर्वोतम आयुर्वेदिक दवा

बवासीर बहुत पीड़ादायक रोग है | उचित समय पर इलाज न लेने से यह समस्या बहुत गंभीर हो जाती है | प्राणदा गुटिका बवासीर के रोगियों के लिए बहुत लाभदायक औषधि है | आजकल मार्केट में बहुत सारी औषधि है लेकिन जड़ से इलाज करने में सक्षम सिर्फ प्राणदा गुटिका ही है I

प्राणदा गुटिका क्या है
प्राणदा गुटिका क्या है

प्राणदा गुटिका के घटक द्रव्य एवं बनाने की विधि |

बवासीर की इस औषधि को बनाने के लिए निम्न जड़ी बूटियों की आवश्यकता होती है :-

  • सोंठ – १२ तोला
  • काली मिर्च – १६ तोला
  • पीपल – ८ तोला
  • चव्य – ४ तोला
  • तालिसपत्र – ४ तोला
  • नागकेशर – २ तोला
  • पिपलामुल – ८ तोला
  • तेजपत्ता – आधा तोला
  • छोटी इलायची, दालचीनी, खास – प्रत्येक एक तोला
  • गुड़ – चाशनी के लिए

प्राणदा गुटिका बनाने की विधि क्या है ?

ऊपर बतायी सभी औषधियों को लेकर इनका महीन चूर्ण बना लें | इस चूर्ण को कपड़े से छान लें | अब गुड़ की चाशनी बना लें और इसमें सभी जड़ी बूटियों का चूर्ण अच्छे से मिला लें | इस मिश्रण की छोटी छोटी गुटिका बना लें | इस तरह से प्राणदा गुटिका तैयार हो जाती है |

प्राणदा गुटिका के फायदे एवं उपयोग |

यह औषधि बवासीर के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है | इसके नियमित सेवन से बवासीर में खून गिरने की समस्या बंद हो जाती है | आइये जानते हैं प्राणदा गुटिका के बवासीर में फायदे :-

प्राणदा गुटिका के फायदे
प्राणदा गुटिका के फायदे
  • यह खूनी, बादी और प्राकर्तिक दोष से उत्पन्न बवासीर में बहुत लाभदायक है |
  • नियमित सेवन करें पर मस्से सूखने लगते हैं |
  • एवं खून गिरने की समस्या भी बंद हो जाती है |
  • प्राणदा गुटिका श्वास एवं खांसी में भी उपयोगी औषधि है |
  • इसके अलावा यह मूत्रकृच्छ, पांडु रोग में भी गुणकारी है |
  • यह औषधि विषम ज्वर, मंदाग्नि एवं गुल्म रोग में भी लाभदायक है |

ध्यान देने योग्य बात :-

  1. अगर अर्श के साथ मलावरोध भी हो यानि पेट साफ नहीं हो रहा हो तो इसमें सोंठ की जगह हर्रे का उपयोग करना चाहिए |
  2. पित्तार्ष की अवस्था में गुड़ के स्थान पर शक्कर का उपयोग करना चाहिए |
प्राणदा गुटिका के उपयोग
प्राणदा गुटिका के उपयोग

दीप आयुर्वेद (Deep Ayurveda) प्राणदा गुटिका की जानकारी :-

  • कीमत :- 230 रूपए
  • फायदे :- बवासीर में लाभदायक, श्वास एवं खांसी के समस्या में भी उपयोगी
  • उपयोग :- खूनी एवं बादी बवासीर, गुल्म रोग, श्वास, कास, पांडू रोग, मूत्रकृच्छ

बैद्यनाथ प्राणदा गुटिका की जानकारी :-

  • कीमत :- 240 रूपए
  • फायदे :- बवासीर में लाभदायक, श्वास एवं खांसी के समस्या में भी उपयोगी
  • उपयोग :- खूनी एवं बादी बवासीर, गुल्म रोग, श्वास, कास, पांडू रोग, मूत्रकृच्छ

श्री श्री तत्व प्राणदा गुटिका की जानकारी :-

  • कीमत :- 195 रूपए
  • फायदे :- बवासीर में लाभदायक, श्वास एवं खांसी के समस्या में भी उपयोगी
  • उपयोग :- खूनी एवं बादी बवासीर, गुल्म रोग, श्वास, कास, पांडू रोग, मूत्रकृच्छ

धन्यवाद !

हमारे अन्य उपयोगी लेख :-

बवासीर की अचूक आयुर्वेदिक दवा

बावलीबूटी से करें बवासीर का इलाज

पारस पीपल के स्वास्थ्य लाभ

रोगानुसार जड़ी बूटियों की सूचि

प्राणदा गुटिका खरीदें

One thought on “प्राणदा गुटिका : बवासीर की सर्वोतम आयुर्वेदिक दवा

  1. Godesihealth says:

    अतिसुंदर जानकारी, अतिउत्तम, पढ़कर ज्ञानवर्धन हुआ,
    धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
Hello
Can We Help You