आम्र पाक (आम पाक) विटामिन A एवं C से भरपूर औषधि है |

आम्र पाक, आम एवं अन्य बलदायक जड़ी बूटियों से मिल कर बनी औषधि है | आयुर्वेद शास्त्रों के अनुसार अच्छी तरह से पके हुए आम में मनुष्य को जरुरी सभी प्रकार के पोषण तत्व होते हैं | उत्तम श्रेणी के पके हुए मीठे आम में विटामिन “ए” एवं विटामिन “सी” दोनों पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं | ये दोनों विटामिन मनुष्य शरीर के लिए बहुत जरुरी हैं | रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने, उर्जा एवं बल वृद्धि एवं चर्म रोगों को नष्ट करने के लिए इन विटामिन्स की बहुत आवश्यकता होती है |

आम्र पाक
आम्र पाक (आमपाक)

इस लेख में हम आम्र पाक के बारे में निम्न विषयों पर जानकारी देंगे |

  • आम्र पाक (आम पाक) क्या है ?
  • इसे कैसे बनाते हैं एवं घटक द्रव्य क्या क्या हैं ?
  • आम पाक बनाने के लिए किस तरह के आमों का उपयोग करना चाहिए ?
  • इसका उपयोग कैसे करें ?
  • सेवन के लिए मात्रा एवं अनुपान क्या है ?
  • आम्र पाक के फायदे क्या क्या हैं ?
  • कामशक्ति बढाने के लिए आम्र पाक का सेवन कैसे करें ?
  • यह किन किन रोगों में असरदार है ?

आम्र पाक क्या है, घटक द्रव्य एवं बनाने की विधि ?

यह आयुर्वेद के पाक प्रकरण विधि से निर्मित एक पौष्टिक औषधि है | इसका मुख्य घटक आम होता है | इसके अलावा इसमें सोंठ, लवंग, काली मिर्च, नागकेशर, पीपल एवं जायफल जैसी बलदायक जड़ी बूटियां भी डाली जाती हैं | यह बलवर्धक, वाजीकर एवं पौष्टिक पाक है | श्वास रोग, संग्रहीणी रोग एवं पांडू रोग नाशक आयुर्वेदिक औषधि है |

आम्र पाक के घटक द्रव्य जानें :-

  • आम का रस (उच्च श्रेणी का और पका हुवा) – 1024 तोला
  • चीनी – 256 तोला
  • घृत – 64 तोला
  • सोंठ – 32 तोला
  • काली मिर्च – 16 तोला
  • पीपल – 8 तोला, जल – 256 तोला
  • धनियाँ, जीरा, नागरमोथा, चीता, दालचीनी, पिप्पला मूल, नागकेशर, छोटी इलायची, लोंग एवं जायफल (सभी 4-4 तोला)
  • शहद 32 तोला

आम्र पाक (आम पाक) कैसे बनाएं ?

इसे आप आसानी से तैयार कर सकते हैं | इसे निम्न विधि से बनाएं :-

  • सोंठ, काली मिर्च, पिप्पल का चूर्ण बना लें |
  • चीनी को पानी में मिला लें एवं मध्यम आंच पर पकाएं |
  • इसमें आम का रस एवं औषधियों का चूर्ण मिला कर पकाते रहें |
  • ध्यान रखें इसे मिटटी के बर्तन में ही पकाएं |
  • जब यह अच्छे से गाढ़ा हो जाये एवं पाक की तरह दिखने लगे तो पकाना बंद कर दें |
  • अब इसमें बाकी बची जड़ी बूटियों का चूर्ण बना कर मिला दें |
  • जब यह ठंडा हो जाए तो इसमें शहद मिला दें |
  • इस तरह से उत्तम एवं बलदायक आम्र पाक तैयार हो जाता है |

सेवन की मात्रा एवं अनुपान से जुडी जानकारी |

यह एक उत्तम बलवर्धक औषधि है | इसका सेवन करने से शरीर में धातुओं की पुष्टता बढती है | उचित स्वास्थ्य लाभ के लिए रोजाना खाने से पहले 2 चम्मच आम्र पाक का सेवन करें | आप इसका सेवन गोदुग्ध, शहद या पानी के साथ कर सकते हैं |

आम्र पाक के स्वास्थ्य लाभ एवं फायदे |

अच्छे से पका हुवा मीठा आम बहुत गुणकारी एवं बलवर्धक होता है | क्षय, सग्रहीणी, श्वास एवं वीर्य विकारो में अगर अकेले आम का सेवन भी किया जाए तो भी बहुत लाभ होता है | आम्र पाक एक उत्तम बलकारी, वीर्य वर्धक एवं अनेकों रोगों को नष्ट करने वाली आयुर्वेदिक औषधि है | आइये जानते हैं इसके फायदे :-

  • यह वीर्य वर्धक है |
  • शुक्राणुओं की वृद्धि करता है एवं कामशक्ति बढाता है |
  • विटामिन ए एवं सी के गुणों से भरपूर है |
  • आमाशय के रोगों का नाश करता है |
  • अम्लपित्त एवं रक्तपित्त को खत्म कर देता है |
  • गाय के दूध के साथ सेवन करने से इसके पौष्टिक एवं बलवर्धक गुण दोगुना हो जाते हैं |
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाता है |
  • हानिकारक जीवाणुओं का नाश करता है |
  • चर्म रोगों में लाभदायी है |
  • क्षय, श्वास एवं संग्रहीणी रोगों में भी उपयोगी है |

अन्य बलवर्धक एवं पौष्टिक आयुर्वेदिक औषधियों के बारे में जाने :-

यादाश्त बढाने वाली आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के बारे में जाने

कौंच पाक :- कामशक्ति वर्धक आयुर्वेदिक दवा

आयुर्वेद में वर्णित सबसे बेहतरीन यौन शक्ति बढाने वाली दवाएं

उपरोक्त जानकारी उपयोगी लगे तो कमेंट जरुर करें, धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
Hello
Can We Help You