आम्र पाक (आम पाक) विटामिन A एवं C से भरपूर औषधि है |

आम्र पाक, आम एवं अन्य बलदायक जड़ी बूटियों से मिल कर बनी औषधि है | आयुर्वेद शास्त्रों के अनुसार अच्छी तरह से पके हुए आम में मनुष्य को जरुरी सभी प्रकार के पोषण तत्व होते हैं | उत्तम श्रेणी के पके हुए मीठे आम में विटामिन “ए” एवं विटामिन “सी” दोनों पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं | ये दोनों विटामिन मनुष्य शरीर के लिए बहुत जरुरी हैं | रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने, उर्जा एवं बल वृद्धि एवं चर्म रोगों को नष्ट करने के लिए इन विटामिन्स की बहुत आवश्यकता होती है |

आम्र पाक
आम्र पाक (आमपाक)

इस लेख में हम आम्र पाक के बारे में निम्न विषयों पर जानकारी देंगे |

  • आम्र पाक (आम पाक) क्या है ?
  • इसे कैसे बनाते हैं एवं घटक द्रव्य क्या क्या हैं ?
  • आम पाक बनाने के लिए किस तरह के आमों का उपयोग करना चाहिए ?
  • इसका उपयोग कैसे करें ?
  • सेवन के लिए मात्रा एवं अनुपान क्या है ?
  • आम्र पाक के फायदे क्या क्या हैं ?
  • कामशक्ति बढाने के लिए आम्र पाक का सेवन कैसे करें ?
  • यह किन किन रोगों में असरदार है ?

आम्र पाक क्या है, घटक द्रव्य एवं बनाने की विधि ?

यह आयुर्वेद के पाक प्रकरण विधि से निर्मित एक पौष्टिक औषधि है | इसका मुख्य घटक आम होता है | इसके अलावा इसमें सोंठ, लवंग, काली मिर्च, नागकेशर, पीपल एवं जायफल जैसी बलदायक जड़ी बूटियां भी डाली जाती हैं | यह बलवर्धक, वाजीकर एवं पौष्टिक पाक है | श्वास रोग, संग्रहीणी रोग एवं पांडू रोग नाशक आयुर्वेदिक औषधि है |

आम्र पाक के घटक द्रव्य जानें :-

  • आम का रस (उच्च श्रेणी का और पका हुवा) – 1024 तोला
  • चीनी – 256 तोला
  • घृत – 64 तोला
  • सोंठ – 32 तोला
  • काली मिर्च – 16 तोला
  • पीपल – 8 तोला, जल – 256 तोला
  • धनियाँ, जीरा, नागरमोथा, चीता, दालचीनी, पिप्पला मूल, नागकेशर, छोटी इलायची, लोंग एवं जायफल (सभी 4-4 तोला)
  • शहद 32 तोला

आम्र पाक (आम पाक) कैसे बनाएं ?

इसे आप आसानी से तैयार कर सकते हैं | इसे निम्न विधि से बनाएं :-

  • सोंठ, काली मिर्च, पिप्पल का चूर्ण बना लें |
  • चीनी को पानी में मिला लें एवं मध्यम आंच पर पकाएं |
  • इसमें आम का रस एवं औषधियों का चूर्ण मिला कर पकाते रहें |
  • ध्यान रखें इसे मिटटी के बर्तन में ही पकाएं |
  • जब यह अच्छे से गाढ़ा हो जाये एवं पाक की तरह दिखने लगे तो पकाना बंद कर दें |
  • अब इसमें बाकी बची जड़ी बूटियों का चूर्ण बना कर मिला दें |
  • जब यह ठंडा हो जाए तो इसमें शहद मिला दें |
  • इस तरह से उत्तम एवं बलदायक आम्र पाक तैयार हो जाता है |

सेवन की मात्रा एवं अनुपान से जुडी जानकारी |

यह एक उत्तम बलवर्धक औषधि है | इसका सेवन करने से शरीर में धातुओं की पुष्टता बढती है | उचित स्वास्थ्य लाभ के लिए रोजाना खाने से पहले 2 चम्मच आम्र पाक का सेवन करें | आप इसका सेवन गोदुग्ध, शहद या पानी के साथ कर सकते हैं |

आम्र पाक के स्वास्थ्य लाभ एवं फायदे |

अच्छे से पका हुवा मीठा आम बहुत गुणकारी एवं बलवर्धक होता है | क्षय, सग्रहीणी, श्वास एवं वीर्य विकारो में अगर अकेले आम का सेवन भी किया जाए तो भी बहुत लाभ होता है | आम्र पाक एक उत्तम बलकारी, वीर्य वर्धक एवं अनेकों रोगों को नष्ट करने वाली आयुर्वेदिक औषधि है | आइये जानते हैं इसके फायदे :-

  • यह वीर्य वर्धक है |
  • शुक्राणुओं की वृद्धि करता है एवं कामशक्ति बढाता है |
  • विटामिन ए एवं सी के गुणों से भरपूर है |
  • आमाशय के रोगों का नाश करता है |
  • अम्लपित्त एवं रक्तपित्त को खत्म कर देता है |
  • गाय के दूध के साथ सेवन करने से इसके पौष्टिक एवं बलवर्धक गुण दोगुना हो जाते हैं |
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाता है |
  • हानिकारक जीवाणुओं का नाश करता है |
  • चर्म रोगों में लाभदायी है |
  • क्षय, श्वास एवं संग्रहीणी रोगों में भी उपयोगी है |

अन्य बलवर्धक एवं पौष्टिक आयुर्वेदिक औषधियों के बारे में जाने :-

यादाश्त बढाने वाली आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के बारे में जाने

कौंच पाक :- कामशक्ति वर्धक आयुर्वेदिक दवा

आयुर्वेद में वर्णित सबसे बेहतरीन यौन शक्ति बढाने वाली दवाएं

उपरोक्त जानकारी उपयोगी लगे तो कमेंट जरुर करें, धन्यवाद

We will be happy to hear your thoughts

      Leave a reply

      स्वदेशी उपचार
      Logo
      Open chat
      Hello
      Can We Help You