जानें प्लेटलेट्स बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि के बारे में | Names, Uses, benefits and doses in hindi

दोस्तों इस लेख में प्लेटलेट्स बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि के बारे में चर्चा करेंगे | रक्त में प्लेटलेट्स कम होना एक घातक समस्या है | प्लेटलेट्स कम होने को thrombocytopenia के नाम से जाना जाता है | डेंगू रोग में यह समस्या बहुत अधिक देखने को मिलती है | डेंगू हो जाने पर प्लेटलेट्स बहुत तेजी से घटते हैं | इससे रोगी को बहुत परेशानी हो जाती है | ज्यादा कम हो जाने पर यह प्राणघातक समस्या हो जाती है |

इस समस्या में प्लेटलेट्स बढाने वाली आयुर्वेदिक दवा का उपयोग करना चाहिए जिससे जल्दी से प्लेटलेट्स बढ़ जाएं और इस प्राणघातक रोग से जल्द छुटकारा मिल जाए | एक स्वस्थ व्यक्ति में 150000 से 450000 की संख्या में प्लेटलेट्स होनी चाहिए | यह हमारे रक्त का सबसे छोटा घटक होता है जो खून के थक्के जमने में सहायक होते हैं |

प्लेटलेट्स बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि (नाम, गुण, उपयोग एवं सेवन की विधि)

आयुर्वेद औषधियों का महाकुंभ है, सभी रोगों के लिए प्रभावी औषधियां आयुर्वेद में उपलब्ध हैं | यहाँ पर हम पतंजलि की उन दवाओं के बारे में जानेंगे जिनका उपयोग आप प्लेटलेट्स बढाने के लिए कर सकते हैं |

दवा का नाम (Name)गुण (Properties)उपयोग एवं फायदे
(Uses and benefits)
सेवन की विधि (How to use)
गिलोय क्वाथएंटी बैक्टीरियल, एंटी एलर्जिक
इम्युनिटी बूस्टर
इम्युनिटी बढाए
सभी रोगों में गुणकारी
10 ml दिन में दो बार
गिलोय सतएंटी बैक्टीरियल, एंटी एलर्जिक
इम्युनिटी बूस्टर, पाचन विकार
सर्दी जुखाम दूर करे
पाचन सही करे
इम्युनिटी बढ़ाएं
सभी प्रकार की बुखार
में लाभदायक
एक चम्मच दिन में दो बार
गिलोय जूसएंटी बैक्टीरियल, एंटी एलर्जिक
इम्युनिटी बूस्टर, मूत्र विकार
मूत्र विकारों में गुणकारी
इम्युनिटी वर्धक
बुखार नाशक
10 ml दिन में दो बार
गिलोय घनवटीएंटी बैक्टीरियल, एंटी एलर्जिक
इम्युनिटी बूस्टर, कमजोरी,
फीवर, डेंगू नाशक
कमजोरी दूर करे
डेंगू और अन्य बुखारों में
लाभदायक
इम्युनिटी वर्धक
एक गोली दिन में दो या तीन
बार शहद के साथ
वीट ग्रास पाउडर रक्त शोधक, सभी रक्त
विकारों में गुणकारी,
हृदय के लिए उत्तम
रक्त विकारों में गुणकारी
ह्रदय के लिए लाभदायक
पाचन सही करे
एक चम्मच दिन में दो बार
अश्वगंधा चूर्णतनाव दूर करें, पौष्टिक रसायन
बल वीर्य वर्धक
अत्यंत पौष्टिक
मानसिक तनाव दूर करे
बल एवं वीर्य वर्धक
एक चम्मच दिन में दो बार
पुनर्नवा मंडूरमूत्र विकारों में लाभकारी
लीवर के लिए उत्तम
लीवर की समस्या में उत्तम
मूत्र विकारों में भी लाभदायक
एक गोली दिन में दो बार
शहद या गुनगुने पानी से
कुमार कल्याण रसइम्युनिटी बढ़ाएं,
बच्चों के लिए उत्तम
बच्चों को सर्दी खांसी बुखार में
गुणकारी
पौष्टिक एवं इम्युनिटी वर्धक
एक गोली दिन में दो बार शहद से
स्वर्ण वसंत मालती रस ताकतवर रसायन, सर्दी खांसी
बुखार नाशक, इम्युनिटी बूस्टर
सभी प्रकार की बुखार में गुणकारी
इम्युनिटी बढ़ाये
पौष्टिक एवं बलवर्धक
एक गोली दिन में दो बार शहद से
प्लेटलेट्स बढ़ाने की दवा पतंजलि

गिलोय का उपयोग प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए :- गिलोय को आयुर्वेद की अमृता कहते हैं | लगभग सभी रोगों में इसका उपयोग किया जाता है | गिलोय से बनी पतंजलि की आयुर्वेद दवाएं प्लेटलेट्स बढाने के लिए बहुत उपयोगी हैं | जैसा उपर बताया है गिलोय घनवटी, गिलोए जूस, गिलोए सत आदि का उपयोग प्लेटलेट्स बढाने के लिए किया जाता है | डेंगू की समस्या में गिलोय का सेवन करना बहुत फायदेमंद रहता है |

प्लेटलेट्स बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा पतंजलि

Wheat grass powder :- रक्त विकारों में वीट ग्रास पाउडर बहुत उपयोगी औषधि है | प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए इसका सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है | पतंजलि वीट ग्रास पाउडर का नित्य सेवन करने से प्लेटलेट्स बढ़ जाती है | यह पाचन भी सुधारता है |

अश्वगंधा चूर्ण भी प्लेटलेट्स बढाने में उपयोगी है :- अश्वगंधा को इंडियन जिनसेंग भी बोला जाता है | यह बहुत उपयोगी जड़ी बूटी है आयुर्वेद में इसका बहुत महत्व है | पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण का सेवन प्लेटलेट्स कम हो जाने पर किया जा सकता है |

पुनर्नवा मंडूर :- पुनर्नवा मूत्र विकारों एवं लीवर के लिए अमृत तुल्य जड़ी बूटी है | पुनर्नवा मंडूर का उपयोग लीवर के विकारों एवं मूत्र विकारों में किया जाता है | पतंजलि पुनर्नवा मंडूर का उपयोग करने से लीवर सही से काम करता है एवं रक्त में प्लेटलेट्स की संख्या बढ़ती है |

स्वर्ण वसंत मालती रस :- सोने के गुणों से युक्त यह औषधि एक शास्त्रोक्त आयुर्वेदिक दवा है | यह एक ताक़त वर रसायन है जिसका उपयोग जीर्ण ज्वर एवं कमजोरी को दूर करने के लिए किया जाता है | पतंजलि कंपनी का स्वर्ण वसंत मालती रस डेंगू रोग में उपयोगी औषधि है | इसका उपयोग करने से कमजोरी दूर होती है एवं प्लेटलेट्स भी बढती है |

प्लेटलेट्स बढाने वाली अन्य प्रभावी आयुर्वेदिक औषधियां एवं जड़ी बूटियां

आयुर्वेद दवाएं एवं जड़ी बूटियां सुरक्षित और प्रभावी रोग नाशक होती हैं | पपीता (Papaya leaf) प्लेटलेट्स कम हो जाने पर सबसे प्रभावी दवा का काम करती हैं | यहाँ पर हम papaya leaf से बनी कुछ बेहतरीन आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में बताएँगे जिनका उपयोग प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए किया जाता है |

  1. Zandu Papaya Leaf Extract tablet :- झंडू कंपनी की यह दवा पपाया से बनी उत्तम औषधि है | डेंगू फीवर में प्लेटलेट्स कम हो जाने पर इसका सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है | इसकी एक गोली दिन में तीन बार पपीता पते के जूस के साथ या पानी के साथ ले सकते हैं |
  2. Caricin Tablet (kerala ayurveda) :- केरल आयुर्वेद की यह दवा प्लेटलेट्स कम हो जाने पर बहुत फायदेमंद है | यह भी पपीता एक्सट्रेक्ट से बनी औषधि है | इसका उपयोग आप डेंगू फीवर में कर सकते हैं |
  3. Pitambari Papaya Tablets :- पपीता के गुणों से युक्त यह औषधि अत्यंत गुणकारी है | इसका सेवन करने से प्लेटलेट्स की घटती संख्या बढ़ जाती है |

पपीता के अलावा कुछ अन्य प्रभावी जड़ी बूटियां जिनका उपयोग प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए किया जाता है :-

  • Pumpkin (कद्दू) :- यह भारतीय सब्जी बहुत गुणकारी औषधि भी है | यह प्रोटीन को नियमित करता है जो प्लेटलेट्स को बढाने में अहम भूमिका निभाता है | इसका जूस दिन में दो से तीन बार पीना चाहिए |
  • Wheat grass :- यह एक प्रमाणित आयुर्वेदिक औषधि है | इसका उपयोग रक्त विकारों में एवं हृदय के लिए किया जाता है | प्लेटलेट्स बढाने में यह बहुत उपयोगी है |
  • Spinach (पालक) :- पालक बहुत ही गुणकारी होता है | सब्जी के रूप में इसका उपयोग बड़े पैमाने पर होता है | यह विटामिन के का बड़ा स्रोत है जो खून जमने को नियमित करने में बहुत मददगार होता है | प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए इसका उपयोग करना बहुत गुणकारी होता है |
  • Beetroot (चुकंदर) :- रक्त की कमी में चुकंदर का उपयोग प्राचीन समय से ही होता जा रहा है | डेंगू रोग में प्लेटलेट की कमी हो जाने पर चुकंदर का जूस पीना बहुत फायदेमंद होता है |

ध्यान रखें :-

यहाँ पर बताई गयी प्लेटलेट्स बढाने की आयुर्वेद दवाएं निसंदेह बहुत ही उपयोगी हैं लेकिन इनका उपयोग हमेशा आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह से ही करना चाहिए |

Frequently asked questions / सवाल जवाब

प्लेटलेट्स बढाने के लिए किस पतंजलि दवा का सेवन करें ?

दिव्य गिलोय जूस, गिलोय घनवटी, अश्वगंधा चूर्ण आदि का उपयोग प्लेटलेट्स कम होने पर किया जाता है |

डेंगू की समस्या में प्लेटलेट्स कम होने पर कौनसी दवा सबसे अच्छी है ?

गिलोय घनवटी का उपयोग डेंगू फीवर में प्लेटलेट्स कम होने पर किया जाता है |

प्लेटलेट्स कम हो जाने पर किन जड़ी बूटियों का उपयोग करना चाहिए ?

गिलोय, पपीता, चुकंदर, तुलसी आदि |

क्या पतंजलि आयुर्वेद की दवाएं प्लेटलेट्स बढ़ाने में उपयोगी हैं ?

आयुर्वेद दवाओं का उपयोग इस समस्या में उपयोगी होता है |

Reference :-

Effect of Carica papaya Leaf Extract Capsule on Platelet Count in Patients of Dengue Fever with Thrombocytopenia

The influence of herbal medicine on platelet function and coagulation: a narrative review

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

क्या आप जानते है कौनसी जड़ी-बूटी क्या काम आती है ?
क्या आप जानते है कौनसी जड़ी-बूटी क्या काम आती है ?
Open chat
Hello
Can We Help You