उष्ट्रासन योग की विधि एवं स्वास्थ्य लाभ

उष्ट्रासन (Camel Pose)

उष्ट्रासन योग का अर्थ होता है ऊँट के सामान आकृति वाला आसन | यहाँ पर प्रयुक्त शब्द उष्ट्र का अर्थ ऊँट होता है, इस आसन को करते समय साधक की आकृति ऊँट के सामान प्रतीत होती है इसलिए इसे उष्ट्रासन कहा जाता है | मानसिक तनाव , क्रोध, चिडचिडापन एवं पीठ दर्द को दूर करने में यह आसन काफी फायदेमंद सिद्ध होता है |

उष्ट्रासन - Camel Pose

अगर आप गुस्से (क्रोध), चिडचिडेपन, मानसिक तनाव, कब्ज, पीठ दर्द एवं फेफड़ों की कमजोरी जैसी समस्या से गुजर रहे है तो उष्ट्रासन योग को अपनाने से इन समस्याओं से निजात मिलती है |

उष्ट्रासन करने की विधि (तरीका)

  • उष्ट्रासन करने के लिए सबसे पहले वज्रासन में बैठ जाएँ |
  • अब अपने घुटनों के बल खड़े हो जाएँ |
  • अब थोडा पीछे झुकें व अपने दाहिने हाथ से दाहिनी एडी और बाएं हाथ से बाई एडी को पकड़ें |
  • अपने सर को पीछे की तरफ झुकाएं |
  • वक्ष स्थल एवं पेट को आगे की और उभारें |
  • कमर और सिर को यथाशक्ति पीछे की तरफ झुकाएं |
  • अब इस स्थिति में 15 सेकंड तक रुकें एवं श्वास – प्रश्वास सामान्य चलने दें |
  • ध्यान दें एडियों को पकड़ते समय श्वास को अन्दर ले |
  • विशेष लाभ के लिए ध्यान को मूलाधार पर बनाये रखें व गुदा द्वार को अन्दर की तरफ खींचे |

उष्ट्रासन के फायदे एवं स्वास्थ्य लाभ

  • यह आसन मानसिक तनाव एवं व्यर्थ आने वाले गुस्से को नियंत्रित करने में सहायता करता है | नियमित अभ्यास से क्रोध पर नियंत्रण कर सकते है |
  • पेट की चर्बी को कम करता है एवं पाचन को सुधरता है |
  • कब्ज एवं गैस की समस्या में लाभ दायक आसन है |
  • श्वांस रोग से पीड़ित लोगों के लिए लाभदायक है | यह आसन फेफड़ों को मजबूती देता है जिससे श्वांस एवं दमे जैसी समस्या से निजात मिलता है |
  • जिन लोगो को कमर दर्द की समस्या है वे उष्ट्रासन को जरुर अपनाएं | पीठ में आये हुए खिंचाव को दूर करके पीठ दर्द को दूर करता है |
  • स्त्रियों के लिए यह आसन काफी फायदेमंद है | मासिक धर्म के समय होने वाले कमर दर्द में आराम मिलता है |
  • इसके अलावा मधुमेह, नेत्रों की रौशनी एवं स्वर आदि में भी फायदेमंद होता है |

अन्य महत्वपूर्ण योग

सर्वांगासन की विधि एवं स्वास्थ्य लाभ

पश्चिमोतानासन

दिमाग तेज करने के लिए योग की सूचि एवं विवरण 

योग एवं प्राणायाम की कुच्छ बेहतरीन पुस्तकें



राज योग

Related Post

सोरायसिस (Psoriasis) क्या है ? इसके कारण, लक्षण और... सोरायसिस क्या है ? (What is Psoriasis in Hindi) सोरायसिस - यह रोग त्वचा का बहुत ही सामान्य रोग है जो लगभग 10 साल से ऊपर के लोगों में अधिक देखने को मि...
चंद्रप्रभा वटी के घटक द्रव्य एवं बनाने की विधि और ... चन्द्रप्रभा वटी / Chandraprabha vati in Hindi परिचय - आयुर्वेद चिकित्सा में चंद्रप्रभा वटी को उत्तम रसायन औषधि माना जाता है | मूत्र विकारों एवं शुक्र...
अकरकरा औषधि परिचय एवं स्वास्थ्य उपयोग या फायदे जान... अकरकरा - इस आयुर्वेदिक औषध द्रव्य से कम लोग ही परिचित है | आयुर्वेद के आर्ष संहिताओं में भी इस द्रव्यों का वर्णन उपलब्ध नहीं होता | इसका सर्वप्रथम वर्...
चन्दनासव / Chandanasav – फायदे, रोगोपयोग एवं... चन्दनासव / Chandanasav - यह उत्तम शीतल गुणों से युक्त होती है | पेशाब में धातु जाना, पेशाब में जलन, पेशाब में इन्फेक्शन एवं महिलाओं के श्वेत प्रदर जैस...
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.