Ashwagandha

अश्वगंधा, शतावरी, कौंच बीज, सफ़ेद मुसली और तालमखाना – 5 बलवृद्धक जड़ी – बूटियाँ

जो शारीरिक एवं यौन रूप से कमजोर है वे आयुर्वेदिक तरीकों से अपनी खोई हुए काम शक्ति को वापस पाना चाहते है | आयुर्वे...

Continue reading

अश्वगंधारिष्ट

अश्वगंधारिष्ट || घटक द्रव्य, फायदे एवं बनाने की विधि

यह आयुर्वेद चिकित्सा की शास्त्रोक्त औषधि है | अश्वगंधारिष्ट एक आयुर्वेदिक टॉनिक है जो तनाव एवं थकान में उपयोगी है...

Continue reading

अतिबला (Abutilon Indicum) – उत्तम बल वर्द्धक आयुर्वेदिक जड़ी – बूटी

आयुर्वेद चिकित्सा में अतिबला को यौन शक्ति वर्द्धक एवं उत्तम धातु पौष्टिक औषधि माना जाता है | यह आयुर्वेद के वाजीक...

Continue reading

यौनशक्ति वर्धक आयुर्वेदिक दवा – पतंजलि, बैद्यनाथ |

आयुर्वेद चिकित्सा सदैव से ही मानव कल्याण एवं रोगनिवारण का एक पर्याय रहा है | कुछ समय के लिए भले ही लोगों ने इसे न...

Continue reading

Dhootapapeshwar Swamla

Dhootapapeshwar Product List with price in Hindi

धूतपापेश्वर प्रोडक्ट्स प्राइस लिस्ट एवं उपयोगधूतपापेश्वर आयुर्वेद जगत...

Continue reading

gokharu in hindi

गोखरू है दिव्य वनौषधि – जाने इसका परिचय, फायदे, गुण एवं आयुर्वेद के अनुसार उपयोग विधि

गोखरू (गोक्षुर) / Gokharu in Hindiगोक्षुर को दिव्य कहना अतिश्योक्ति न...

Continue reading

ऊँटकटारा

ऊँटकटारा का वानस्पतिक परिचय – इसके औषधीय गुण एवं फायदे |

ऊंटकटारा / ब्रह्मदंडी / उष्टकंटक  परिचय - यह एक बहुशाखाओं युक्त पौधा होता है, जिसकी शाखाएं जड़ों से फूटती है | भारत में यह मध्यभारत , रा...

Continue reading

स्वप्नदोष

स्वप्नदोष ठीक करने के प्रमाणित आयुर्वेदिक इलाज एवं दवाएं

स्वप्नदोष / Night Fall in Hindi  आयुर्वेद में स्वप्नदोष को प्रमेह का ही एक भाग माना जाता है, इसे स्वप्न-प्रमेह के नाम से भी पुकारा...

Continue reading

जानें कामोद्दीपक तालमखाना के फायदे एवं घरेलु नुस्खें

तालमखाना क्या है  यह एक क्षुप जाति का पौधा है जो जलीय प्रदेशों में प्राप्त होता है | यह जमीन पर फैलती है एवं इसके पते लम्बे होते ह...

Continue reading

Vajikaran

वाजीकरण क्या है – पढ़ें वाजीकरण द्रव्य एवं औषधियां के बारे में सम्पूर्ण

वाजीकरण क्या है  परिचय - आयुर्वेद को आठ भागों में बांटा गया है | जिनमे से वाजीकरण एक प्रमुख भाग है | वाजीकरण  शब्द का शाब्दिक...

Continue reading