shighrapatan rokne ki tablet | आयुर्वेदिक वटी, गुटिका या गोली

Shighrapatan वर्तमान में सबसे सामान्य और गंभीर रोग है | इसे rokne ki बाजार में बहुत सारी दवाएं उपलब्ध हैं | जिनमें tablet, capsule, syrup, spray और oil आदि आसानी से मिल जाते हैं | इस लेख में आज हम शीघ्र पतन या शीघ्र स्खलन की समस्या को रोकने के लिए उपयोगी टेबलेट्स के बारे में बताएँगे |

Shighrapatan से आप क्या समझते हैं ?

शीघ्र यानि जल्दी या कम समय में और पतन यानि गिर जाना | जब एक पुरुष और महिला सहवास करते हैं तो अगर पुरुष का वीर्य पतन कम समय में हो जाये यानि महिला के संतुष्ट होने से पहले वीर्यपात हो जाये तो इसे शीघ्र पतन या शीघ्र स्खलन के नाम से जाना जाता है |

शीघ्रपतन रोकने की टेबलेट (1)

देखा जाये तो यह कोई रोग नहीं है | यह समस्या अन्य रोगों एवं कमजोरियों की वजह से जन्म लेती है | दिनचर्या से जुड़े रोग, मानसिक विकार, जननांगो के विकार, नशे की लत, पाचन से जुड़े रोग आदि किसी भी कारण से यह समस्या हो सकती है |

कैसे पहचाने की आप शीघ्र पतन के शिकार हैं या नहीं ?

शीघ्रपतन को लेकर पुरुषों में बहुत सी गलत फहमियां हैं | आजकल युवा समझते हैं की अगर वो आधा घंटा या एक घंटा तक संभोग नहीं कर पाते तो उनको शीघ्र स्खलन की समस्या है | लेकिन यह सच नहीं है | अगर आप 7 से 10 मिनट तक बिस्तर पर टिक पाते हैं तो आप सामान्य हैं |

योनी में प्रवेश करने से पहले या प्रवेश करते ही 7 मिनट से पहले अगर आपका स्खलन हो जाता है तो यह shighrapatan या शीघ्र स्खलन के दायरे में आता है |

Shighrapatan की रोकथाम के लिए क्या उपाय करें ?

यूँ तो बाजार में शीघ्रपतन को रोकने के लिए अनेकों अंग्रेजी और आयुर्वेदिक दवाएं उपलब्ध हैं | लेकिन अधिकांश मामलों में यह दवाएं कारगर नहीं होती हैं | इसकी वजह है शरीर की प्रकृति, रोग की अवस्था एवं दवा की सही जानकारी लिए बिना ही medicine लेना |

Shighraptan बहुत ही जटिल समस्या है | यह तब तक ठीक नहीं हो सकती जब तक आप इसका सही कारण पता लगा कर उचित दवा का सेवन पथ्य अपथ्य के अनुसार नहीं करते हैं |

Shighrapatan rokne ki tablet की जानकारी

यूँ तो आयुर्वेद में यौन कमजोरियों के लिए हजारों दवाएं उपलब्ध हैं जिनमें रस रसायन, आसव अरिष्ट, पाक, चूर्ण, वटी (टेबलेट), तेल और अवलेह आदि सभी प्रकार की दवाएं हैं | लेकिन इस लेख में हम शीघ्र पतन को रोकने के लिए सबसे अच्छी tablet की जानकारी देंगे |

Shighrapatan रोकने की tablet के नाम :-

  • महास्तंभन वटी
  • वानरी गुटिका
  • वीर्य स्तंभन वटी
  • चंद्रप्रभा वटी
  • वंगेश्वर रस
  • मदन मंजरी गुटिका
  • मदन विनोद गुटिका
  • पुष्टिकारक गोली
  • विर्यरोधी गुटिका

ये सभी tablet शीघ्रपतन को रोकने के लिए काम में ली जाती हैं | इनमें से कौनसी tablet आपके लिए सही है यह आप आयुर्वेद चिकित्सक को अपने शरीर की जाँच करवा कर पूछ सकते हैं |

शीघ्रपतन रोकने की टेबलेट लेने के फायदे :-

आयुर्वेदिक दवाओं में tablet अन्य प्रकरण की दवाओं के मुकाबले लेने में आसान और अधिक उपयोगी मानी जाती हैं | क्योंकि यह आसानी से उपलब्ध भी होती हैं और इनका सेवन करना भी आसान होता है | दूसरा इसका कारण यह भी है कि इनसे किसी प्रकार की कोई एलर्जी या दुष्प्रभाव नहीं होता है |

Shighraptan को रोकने के लिए टेबलेट लेते समय किन बातों का ध्यान रखें ?

आयुर्वेदिक दवा अंग्रेजी दवाओं से बहुत अलग होती हैं | इनका उपयोग हमेशा शरीर की प्रकृति, मौसम, रोग की अवस्था और मानसिक अवस्था को ध्यान में रखकर किया जाता है | इसलिए शीघ्र स्खलन बंद करने की टेबलेट लेते समय चिकित्सक की उचित सलाह लेकर ही बताये गये निर्देशों को ध्यान में रखकर इनका सेवन करना चाहिए तभी इनका पूर्ण लाभ प्राप्त होता है |

शीघ्रपतन rokne की tablet लेते समय पथ्य अपथ्य :-

जैसा पहले बताया है आयुर्वेद दवाओं का सेवन पथ्य अपथ्य के अनुसार करना अधिक फायदेमंद होता है | इसलिए shighrapatan rokne ki tablet लेते समय खान पान एवं दिनचर्या का ध्यान रखना बहुत जरुरी है | in टेबलेट का सेवन करते समय मसालेदार भोजन, तेल में तली चीजें, फ़ास्ट फ़ूड, शराब, धुम्रपान, रात में देर तक जागना, मानसिक तनाव आदि से बचना चाहिए |

शीघ्रपतन रोकने की टेबलेट कहाँ से खरीदें ?

जल्द स्खलन होने की समस्या होने पर उपर बतायी गयी दवाएं आप किसी नजदीकी आयुर्वेद स्टोर या amazon जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स से प्राप्त कर सकते हैं | आयुर्वेद टेबलेट लेते समय हमेशा ध्यान रखें की शास्त्रोक्त या विश्वसनीय पेटेंट टेबलेट्स का ही सेवन करें |

shighrapatan rokne ke लिए tablet कितने समय तक लेनी चाहिए :-

सामान्यतः कोई भी आयुर्वेद दवा 2 से 3 महीने तक सेवन करना लाभकारी होता है | shighraptan ki goli भी आप 2 से 3 महीने तक उपयोग करें | समस्या गंभीर होने पर अधिक समय तक भी इनका सेवन किया जा सकता है |

शीघ्रपतन की tablet के दुष्प्रभाव :-

सामान्यतः आयुर्वेदिक टेबलेट जिनका उपयोग शीघ्र स्खलन को रोकने के लिए किया जाता है उनका कोई विशेष दुष्प्रभाव नहीं होता है | लेकिन अगर अधिक मात्रा में और गलत तरीके से सेवन करने पर सार दर्द, उल्टी, गर्मी लगना जैसी समस्याएं हो सकती हैं |

धन्यवाद ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *