त्रयोदशांग गुग्गुलु के घटक द्रव्य एवं फायदे | Tryodashang Guggulu Ingredients & Benefits

त्रयोदशांग गुग्गुलु : यह आयुर्वेद चिकित्सा की शास्त्रोक्त दवा है | जिसका इस्तेमाल लकवे, गठिया एवं वातव्याधियों के लिए किया जाता है | यह क्लासिकल प्रिपरेशन गुग्गुलु प्रकरण की दवाओं में आती है | गुग्गुलु प्रकरण की दवाएं वे होती है जिनमे गुग्गुलु मिलाकर दवाओं का निर्माण किया जाता है |

सर्वाइकल, हाथ पैरों में जकड़न, मांसपेशियों में जकड़न, गठिया रोग, पक्षाघात (लकवा) एवं सभी प्रकार की वात व्याधियां त्रयोदशांग गुग्गुलु के सेवन से ठीक हो जाती है | आयुर्वेदिक चिकित्सक इन रोगों में अन्य औषध योगों के साथ त्रयोदशांग गुग्गुलु का प्रयोग भी बताते है |

चलिए अब आपको इसके घटक द्रव्यों के बारे में बताते है |

त्रयोदशांग गुग्गुलु के घटक द्रव्य / Ingredients of Trayodashang Guggulu in Hindi

इसमें निम्न घटक द्रव्य इस्तेमाल में आते है –

  • बबूल छाल (Acacia Arabica)
  • अश्वगंधा (Withania Somnifera)
  • हाउबेर (Juniperus Communis)
  • गिलोय (Tinospora Cordifolia)
  • शतपुष्पा (Foeniculum valgare)
  • सोंठ (Zinziber)
  • गोखरू (Tribulus Terriestris)
  • शतावरी (Aspragus Racemosus)
  • कर्चुर (Curcuma Zedoaria)
  • यवानी (Trachyspermum ammi)
  • वृद्ध दारू (Argyria Speciosa)
  • रास्ना (Pluchea Lanceolata)
  • गुग्गुलु (Commifura Mukul)
  • घी (Cow Ghrita)

त्रयोदशांग गुग्गुलु कैसे बनता है

त्रयोदशांग गुग्गुलु

इसे बनाने की विधि बहुत ही सरल है | सबसे पहले ऊपर बताई गई सभी काष्ठ औषधियों का महीन चूर्ण बना लिया जाता है | इन काष्ठ औषधियों की मात्रा सभी की समान होती है | अब शुद्ध गुग्गुलु लेकर इससे एक चौथाई घी लिया जाता है |

अब खरल में सभी द्रव्यों का चूर्ण एवं गुग्गुलु डालकर ऊपर से एक चौथाई घी डालकर मर्दन किया जाता है | जब यह गोलियां बनाने लायक हो जाये तो 250 mg की गोलिया बना ली जाती है | इस प्रकार से तैयार औषधि त्रयोदशांग गुग्गुलु कहलाती है |

भले ही इसे बनाने की विधि आसान है लेकिन फिर भी किसी भी आयुर्वेदिक औषधि को निपुण वैद्य एवं फार्मासिस्ट की देख रेख में बनाया जाना चाहिए | इस प्रकार से औषधि की गुणवता बढती है एवं उससे नुकसान होने का डर भी नहीं रहता |

त्रयोदशांग गुग्गुलु के फायदे / Health Benefits of Trayodashang Guggulu in hindi

  • सर्वाइकल स्पोंडीलाइसीस रोग में यह बहुत फायदेमंद औषधि है |
  • गठिया एवं सर्वांग वात में इसका सेवन करने से वात वृद्धि के कारण होने वाले दर्द से मुक्ति मिलती है |
  • हाथ पैरों की जकड़न, मांसपेशियों की जकड़न आदि में भी यह लाभदायक है |
  • लकवे एवं पक्षाघात में त्रयोदशांग गुग्गुलु सेवन करना फायदेमंद रहता है |
  • नियमित सेवन से लकवा ठीक होने लगता है |
  • वात विकृति के कारण होने वाले दर्द में बहुत फायदेमंद औषधि है |
  • वातनाशक औषधियों के अनुपान के साथ इसका सेवन करने से सभी वातविकृतियाँ नष्ट होती है |
  • पेट में वायु भरना एवं दर्द होने में भी लाभदायक आयुर्वेदिक दवा है |

सेवन विधि / Doses

इसका सेवन 2 से 4 वटी सुबह – शाम गर्म जल या दूध के साथ करना चाहिए | विभिन्न रोगों में वैद्य परामर्श से अलग – अलग अनुपान के साथ इसका सेवन किया जा सकता है |

सेवन करने से पहले आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह लेना अधिक फायदेमंद साबित होती है |

त्रयोदशांग गुग्गुलु का मूल्य / Trayodashang Guggulu Price in Hindi

  1. Baidyanath Trayodashang Guggulu Price – Rs. 170
  2. Patanjali Trayodashang Guggulu Price – Rs. 56
  3. Dabur Trayodashang Guggulu Price – Rs. 92
  4. Dhootpapeshwar Trayodashang Guggulu Price – Rs. 138
  5. Unjha Trayodashang Guggulu Price – Rs. 118

सवाल – जवाब / FAQ

क्या त्रयोदशांग गुग्गुलु सेवन करना सेफ है ?

जी हाँ यह पूर्णत: सेफ आयुर्वेदिक दवा है |

इसके क्या फायदे है ?

सर्वाइकल, आर्थराइटिस, पेरालिसिस एवं वात विकृतियों में इसका उपयोग करने से रोग नष्ट होने लगते है |

क्या यह नशा पैदा करती है ?

जी नहीं, इस दवा में कोई भी कंटेंट एसा नहीं है जो शरीर में आलस या नशा करे | आप वैद्य परामर्श से बेझिझक सेवन कर सकते है |

कहाँ मिलती है ?

यह सभी आयुर्वेदिक दवा की दुकानों एवं ऑनलाइन जैसे अमेज़न आदि वेबसाइट पर आसानी से उपलब्ध हो जाती है |

त्रयोदशांग गुग्गुलु के क्या नुकसान है ?

इसके कोई भी ज्ञात दुष्प्रभाव नही है | चिकित्सक की सलाह से सेवन करने से इस औषधि के कोई भी नुकसान नहीं देखे गए है | अत: नुकसान के रूप में यह पूर्णत: सेफ आयुर्वेदिक दवा है |

Reference (External Link) : https://www.researchgate.net/figure/Ingredients-of-Trayodashang-Guggulu_tbl1_315330757

धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

जानें ब्रह्म रसायन के फायदे चमत्कारिक आयुर्वेदिक औषधि

सभी उम्र के व्यक्तियों के लिए अत्यंत लाभदायी औषध है | आयुर्वेद में इसे रसायन एवं वाजीकरण औषधियों में गिना जाता है

Open chat
Hello
Can We Help You