Himalaya Pilex tablet uses in Hindi | पाइलेक्स टेबलेट के स्वास्थ्य उपयोग

Pilex Tablet Uses: हिमालया फार्मेसी आयुर्वेद क्षेत्र में जानी मानी आयुर्वेदिक दवा निर्माता कंपनी है | विभिन्न प्रकार की प्रसिद्द आयुर्वेदिक दवाओं का निर्माण इस कंपनी द्वारा किया जाता है | आयुर्वेद के साथ – साथ अंग्रेजी चिकित्सा पद्धति में भी हिमालय कंपनी के उत्पाद प्रचलित है |

हिमालय की पाइलेक्स टेबलेट का उपयोग बवासीर के उपचार में किया जाता है | खुनी या बादी बवासीर में सूजन की समस्या, रक्त आना, आँतों की सूजन में यह दवा प्रभावी रूप से कार्य करती है |

लम्बे समय से अगर आप अर्श या बवासीर से पीड़ित है तो हिमालय पीलेक्स टेबलेट का उपयोग वैद्य सलाह से करना लाभदायक परिणाम देता है |

pilex tablet uses in hindi

चलिए सबसे पहले Pilex Tablet के घटक द्रव्यों के बारे में आपको अवगत करवाते है |

Ingredients of Pilex Tablet | घटक द्रव्य पाइलेक्स टेबलेट

  1. नीम – संक्रमण को दूर करने में उपयोगी
  2. हरीतकी – कब्ज नाशक गुणों से युक्त
  3. नागकेशर – रक्तस्राव को रोकने में उपयोगी
  4. दारूहरिद्रा – घाव को सुखाने के औषधीय गुणों से युक्त जड़ी – बूटी
  5. अमलतास – दर्द निवारक गुणों से युक्त औषधि
  6. कांचनार – शरीर को डेटोक्स एवं खुजली से राहत दिलाने वाली औषधि
  7. आंवला – रोगप्रतिरोधक गुणों से युक्त
  8. बहेड़ा – बक्ट्रिया रोधी गुणों से युक्त
  9. शिलाजीत – दर्द एवं सुजन से राहत दिलाने में उपयोगी
  10. गुग्गुलु – सुजन, घाव एवं दर्द में उपयोगी |

भावनार्थ एवं बनाने में उपयोगी घटक द्रव्य

  1. जल पिप्पली
  2. वचा
  3. पूतकरंज
  4. सुरण
  5. लजालू
  6. कुकरौंधा

General Details About Pilex Tablet | पाइलेक्स टेबलेट की सामान्य जानकारी

दवा का नाम Pilex Tablet
मैन्युफैक्चरर Himalaya Wellness Company
घटक Neem, Chebulic Myrobalans, Mesua ferrea, Indian barberry, Indian laburnum, Mountain Ebony, Gooseberry, Terminalia bellirica, Black Bittumen, Commiphora wightii
उपयोग बवासीर में खुनी गुदा स्राव, सुजन, दर्द
मूल्य Rs. 135 (60 Tablets)
वैधता Three Years from Manufacturing Date

Pilex Tablet Uses in Hindi | पाइलेक्स टेबलेट के उपयोग हिंदी में

यहाँ हमने इसके उपयोगों को सारणी में उल्लेखित किया है | आप इस सारणी के माध्यम से पालेक्स टेबलेट के उपयोगों को आसानी से समझ सकते है | ध्यान दें यह आयुर्वेदिक दवा बिना पर्चे मिलने वाली दवा है | इसका उपयोग वैद्य दिशानिर्देशों में करना अधिक फायदेमंद साबित होता है |

  • बवासीर में यह दवा उपयोगी है |
  • खुनी या बैगर खून वाले अर्श में भी इसका उपयोग प्रमुखता से किया जाता है |
  • बवासीर के कारण होने वाले दर्द एवं सुजन से यह दवा निजात दिलाती है |
  • पालेक्स टेबलेट तुरंत असर करती है एवं बवासीर में लाभ देती है |
  • कब्ज के कारण बवासीर जल्द ही बड़ा होने लगता है अत: पालेक्स के सेवन से कब्ज नहीं बनती एवं बवासीर का आकार घटता है |
  • अगर आपको गुदा में खून आ रहा है तो यह दवा फायदेमंद है | इसके उपयोग से बवासीर के कारण आने वाले खून से छुटकारा मिलता है |
  • सुजन में भी फायदेमंद है अर्थात सुजन को दूर करती है |
  • यह संक्रमण को भी दूर करने में उपयोगी है |
  • पाइलेक्स टेबलेट के साथ पाइलेक्स क्रीम का उपयोग करने से जल्द ही समस्या में राहत मिलती है |
  • इस दवा में गुग्गुलु घटक द्रव्य है जिसका कार्य सुजन को दूर करके दर्द को कम करने का रहता है | यह दर्द को दूर करने में भी उपयोगी दवा है |
  • बवासीर में ख़राब पाचन के कारण कब्ज अधिक बनता है एसे में पाचन को सुधारने एवं कब्ज को खत्म करने में यह दवा लाभदायक साबित होती है |
  • जीवाणु रोधी गुणों के कारण पाइलेक्स टेबलेट बवासीर में अत्यंत फायदेमंद है |
  • शिलाजीत, आंवला आदि घटक रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते है एवं रोग की पुनरावर्ती को रोकते है |

Doses of Himalaya Pilex Tablet | सेवन की विधि एवं मात्रा

दिन में दो बार 1 – 1 गोली का सेवन किया जाना चाहिए | साथ ही पाइलेक्स टेबलेट के साथ बेहतर परिणाम के लिए पाइलेक्स ऑइंटमेंट का उपयोग अधिक लाभदायक सिद्ध होता है | इस दवा का प्रयोग वैद्य सलाह लेकर करें | दिशा निर्देशों अनुसार सेवन अधिक फायदेमंद साबित होता है |

वैद्य सलाह के लिए कमेंट बॉक्स में अपनी सलाह पूछें उपलब्ध वैद्य द्वारा निश्चित रूप से सहायता की जाएगी |

धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *