पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला हैं ये पुरातन नुस्खे एवं आयुर्वेदिक दवाएं

पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला जानने से पहले ये जान लें कि यहाँ बताये गए सभी नुस्खे एवं दवाएं कामोतेज्जना में आई कमी को दूर करके उत्तेजना पैदा करने वाले है | अत: ये नुस्खे उत्तेजना रखने एवं तनाव को बनाये रखने में मददगार साबित होते है | प्राचीन समय से ही इन नुस्खों का इस्तेमाल होते आया है | साथ ही इस लेख में हमने पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने के लिए आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में भी बताया है |

यहाँ पर यह जो वाक्य लिखा है “पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला” इसे सिर्फ एक सर्च वाक्य समझ कर हमने इसी के आधार पर आयुर्वेदिक दवाएं एवं नुस्खों के बारे में बताया है |

ये नुस्खे एवं दवाएं पुरुषों की यौनकमजोरियों को दूर करके उन्हें उत्तेजना एवं तनाव बनाये रखने में मददगार साबित होती है | आयुर्वेद में प्राचीन समय से ही इन प्राचीन फार्मूला का उपयोग होते आया है | राजा – महाराजाओं को सहवास में अधिक कुशल बनाने के लिए वैद्यों द्वारा विभिन्न प्राकृतिक नुस्खों इस्तेमाल करवाया जाता था | ये ही नुस्खे हमने यहाँ पर आपके लिए उपलब्ध करवाए है |

पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला के नुस्खे

यहाँ पर हमने आयुर्वेद में वर्णित एवं प्रसिद्द कुछ नुस्खों के बारे में बताया है | ये सभी नुस्खे प्रमाणिक है लेकिन उपयोग से पहले अपने वैद्य से सलाह अवश्य लें | तो चलिए जानते है पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने के प्राचीन नुस्खे एवं पुरुषों की यौन कमजोरियों को दूर करने वाले आयुर्वेदिक नुस्खों के बारे में |

पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला

1. स्त्री वशीकरण फार्मूला :

वंशलोचन 1 तोला, धूलि भांग का चूर्ण 4 तोले, शुद्ध पारा 3 माशे, शुद्ध गंधक 3 माशे, लौह भस्म 3 माशे, सोने की भस्म 3 माशे, अभ्रक भस्म 3 माशे, इन सभी को खरल में पीसकर ऊपर से भांग का काढ़ा डालकर अच्छे से घोंटे | अच्छी तरह से घोंटने के पश्चात 1 से 2 रति को गोलियां बना लें | इनमे से 1 से 2 गोली बलाबल अनुसार लेकर ऊपर से दूध पीने से वीर्य का पतलापन दूर होकर रुकावट बढती है एवं नामर्दी मिटती है | इसे चालीस दिन तक सेवन करने से नामर्द भी मर्द बन जाता है | इस नुस्खे का इस्तेमाल पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने के लिए प्राचीन फार्मूला की तरह उपयोग में लिया जा सकता है |

2. अपूर्व स्तंभनकारक चूर्ण है पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला

इस चूर्ण को बनाने के लिए सबसे पहले अकरकरा 3 माशा, काली तुलसी के बीज 24 माशे, मिश्री एवं मिश्री के निचे जमा हुआ कंद 27 माशे लेकर इन्हें कूट-पीसकर छान लें | इस चूर्ण को सहवास से 2 घंटे पहले सेवन करें लिंग में उत्तेजना पत्थर जैसी आएगी एवं जब तक आप निम्बू का रस सेवन नहीं करेंगे तब तक वीर्य स्खलित नहीं होगा अर्थात तनाव बना ही रहेगा | इस नुस्खे में अफीम नहीं है लेकिन फिर भी यह अफीम युक्त नुस्खों से अधिक कारगर है |

3. स्तंभनकारक नुस्खा जो तनाव को रखेगा पत्थर जैसा

यह प्राचीन फार्मूला बहुत ही साधारण है | इसमें सबसे पहले इमली के बीज एक तोला लेकर इन्हें पानी में 3 से 4 दिन के लिए डाल दें | 4 दिन बाद इन्हें छील लें | जितने बीज हो उससे दुगुना पुराना गुड़ इसमें डालकर पीसकर इसकी चने के आकार की गोलियां बना लें | इन गोलियों को 1 से 2 की मात्रा में सहवास से पहले सेवन करलें | आप पत्थर जैसे तनाव से युक्त रहेंगे एवं सहवास में समय भी बढेगा |

4. पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन लेप

लेप बनाने के लिए सबसे पहले कबाबचीनी, दालचीनी, अकरकरा, और लाल मुन्नका सभी को बराबर की मात्रा में लेकर इन्हें कूट-पीसकर इसमें शहद मिला दें | शहद इतनी मात्रा में मिलाये की इसका लेप बन जाये | इस लेप को लिंगेन्द्रिय के उपरी हिस्से को छोड़कर बाकी हिस्से पर लगा लें | इस लेप का प्रयोग करने से लिंग में पत्थर जैसी सख्ती एवं आकार में भी बढ़ोतरी होती है | यह लिंग की मांशपेशियों में रक्त को प्रवाह को बढाता है एवं सहवास में हर्ष उत्पन्न करता है |

5. तिल और गोखरू चूर्ण

नपुंसकता नाशक यह योग बहुत ही साधारण एवं प्रभावी है | तिल एवं गोखरू दोनों का सामान मात्रा में चूर्ण ले | इन दोनों को मिलाकर बकरी के दूध में इन्हें पका लें | जब अच्छी तरह पाक हो जाये तो आंच से निचे उतार कर ठंडा करलें | इसमें शहद मिलाकर नित्य सेवन करने से नपुसंकता के कारण तनाव न आने की समस्या दूर होती है | यह नुस्खा भी पत्थर जैसी सख्ती देने वाला प्राचीन फार्मूला है | इन सभी ऊपर बताये गए नुस्खों का प्रयोग वैद्य सलाह से ही करें | यह लेख सिर्फ ज्ञान वर्द्धन के लिए लिखा गया है |

पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने के लिए प्राचीन आयुर्वेदिक दवाएं

कृप्या ध्यान दें यह “पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला” महज एक सर्च टर्म है | हमने यहाँ नपुंसकता नाशक एवं तनाव और उत्तेजना बनाये रखने के नुस्खे एवं दवाओं के बारे में आपको बताया है | इन नुस्खों एवं दवाओं का प्रयोग बिना वैद्य परामर्श नहीं करना चाहिए | इसे आप महज ज्ञान वर्द्धन के लिए सही जानकारी आप तक पहुँचाने के लिए लिखा गया लेख है |

आप इस लिस्ट में इन दवाओं के नाम एवं उपयोग देख सकते है | हमने यहाँ इन दवाओं की लिस्ट आपको उपलब्ध करवाई है | देखें –

क्रमांक दवा का नाम उपयोग
1.कामिनी विद्रावण रस नपुंसकता नाशक एवं शीघ्रपतन नाशक
2.जातिफलादी वटी तनाव एवं हर्ष के लिए
3.कामसुधा योग तनाव एवं इच्छा वर्द्धि के लिए
4.अश्वागंधादी चूर्ण यौनशक्ति वर्द्धक
5.मकरध्वज वटी मर्दाना ताकत एवं वीर्य वर्द्धक
6.शुक्रवल्लभ रस शुक्र विकारों में उपयोगी दवा
7.धातु पौष्टिक चूर्ण धातुओं को बल प्रदान करने में उपयोगी
8.कामदेव चूर्ण पत्थर जैसा सख्त करने के लिए उपयोगी
9.मन्मथ रस रस औषधि
10.मुसली पाक बल एवं वीर्य वर्द्धक

धन्यवाद |

One thought on “पत्थर जैसा सख्त खड़ा करने का प्राचीन फार्मूला हैं ये पुरातन नुस्खे एवं आयुर्वेदिक दवाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

नमस्कार

स्वदेशी उपचार में आपका स्वागत है | कृप्या पूरा लेख पढ़ें अगर आपका कोई सवाल एवं सुझाव है तो हमें whatsapp करें

Holler Box