अगर आंखे दुखनी आयी हुई हो तो करे ये उपचार


आँखों का दुखना 

आँखों के दुखने आने पर हमें बहुत सी परेशानियां झेलनी पड़ती है | यह कोई बड़ा रोग नहीं है फिर भी इससे होने वाली परेशानियाँ बहुत है | आँखे दुखनी आने  पर आँखों में जलन , लालिमा , कीच आना , सिरदर्द  आदि कई उपद्रव होते है | अगर आप की भी आँखे दुखनी आयी हो तो निचे बताये गए घरेलु उपाय करने से आप इससे बच सकते है |

https://www.swadeshiupchar.in/2017/05/ankho-ke-dukhne-ka-upchar.html

आँखे दुखने का घरेलु उपचार 

➤जब आपको ये अहसास हो की आपकी आंखे दुखनी आने वाली है तो जिस तरफ की आँख में परेशानी है उसी तरफ के कान में रुई ठूंस ले , अगर दोनों आँखे दुखनी आने वाली है तो दोनों कानो में रुई की डाट लगा ले | इस तरीके को 2 या 3 घंटे अपनाने से आप देखेंगे की आपकी आँखो में काफी आराम है और वो दुखना नहीं आएँगी |

➤अगर आँखे दुखनी आ जावे तो दो रति फिटकरी को बिलकुल बारीक़ पिसकर 30 ग्राम गुलाब जल में घोलकर रखले | इसका इस्तेमाल ड्रोपर द्वारा दिन में 3 बार 2 – 2 बुँदे आँखों में करे | इसके प्रयोग से आँखों से पानी आना , लालिमा, दुखना, गीड आदि की समस्या से जल्दी ही आराम मिलेगा |

➤शहद की एक बूंद प्रभावित आँख में टपकाए | शहद प्राकृतिक क्लींजर है जो आपकी आँखों की सफाई करेगा और दर्द में भी आराम मिलेगा |

➤त्रिफला चूर्ण को रात भर पानी में भिगो दे और सुबह उठाते ही इसको छान कर , त्रिफला के पानी से आँखे धोये | आँखों के सभी रोगों में त्रिफला क्वाथ से आँखे धोना फायदेमंद है 

➤चंपा के फूलों को तिल के तेल में पीसकर लुग्दी बना ले एवं इस लेप का प्रयोग आँखों पर करे | जल्दी ही आँखों का दुखना सही हो जावेगा |

➤हरी दूब को पिस ले और इसकी लुग्दी बना ले | इस लुग्दी का रात्रि में सोते समय आँखों पर लेप करे | इस नुस्खे से आँखों का दुखना , लालिमा और आँखों में आने वाले कीच से छुटकारा मिलता है |

➤आलू का रस निकाल कर | इस रस को आँखों पर लगाने से आँखों के दुखने में आराम मिलता है |

➤आँखों के दुखने आने पर आप पीपल के पेड़ की पति को तोड़कर उसमे से निकलने वाले दूध को आँखों में लगाने से जल्दी ही इससे छुटकारा मिलता है |

➤धतूरे के पते और नीम के पतों का रस निकाल ले और इस रस को दोनों कानो में 3 बूंद की मात्रा में डाले | इस नुस्खे से आँखों का दुखना जल्द ही खत्म हो जाता है |

धन्यवाद |

Related Post

पार्किंसंस रोग / Parkinson’s Disease –... पार्किंसंस रोग रोग / Parkinson's Disease in Hindi परिचय - पार्किंसंस रोग को हिंदी में कम्पाघात कहते है | यह एक मानसिक विकार है जो केन्द्रीय तंत्रिका ...
सैन्धवादी चूर्ण बनाने की विधि... सैन्धवादी चूर्ण बनाने की विधि विधि - सेंधा नमक, कालीमिर्च और फूली हुई फिटकरी 10-10 ग्राम तथा कपूर व अफीम 2-2 ग्राम | इन सब को कूट पिस कर चूर्ण बना ...
महिला गुप्तांग के ढीलेपन का प्रमाणिक उपाय – ... महिला गुप्तांग के ढीलेपन का प्रमाणिक इलाज / उपचार     वैवाहिक जीवन में आनंद और खुशियों के लिए जरुरी है की पति और पत्नी दोनों का स...
कुलथी के गुणधर्म, फायदे एवं 7 बेहतरीन स्वास्थ्य ला... कुलथी क्या है - दक्षिण भारत में कुलथी का प्रयोग बहुतायत से किया जाता है | इसकी दाल बनाकर एवं अंकुरित करके अधिक प्रयोग में लेते है | आयुर्वेद में कुलथी...
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.