टाइमिंग बढ़ाने की देसी आयुर्वेदिक दवा | Timing Badhane ki Deshi Ayurvedic Dawa

टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा : समय बढ़ाने के लिए आयुर्वेद में एक विस्तृत एवं विश्वसनीय अध्याय है, जिसे वाजीकरण चिकित्सा के नाम जाना जाता है | सहवास में समय की कमी यौन दुर्बलताओं का एक परिणाम है | अधिकतर यौन दुर्बलताएं विभिन्न कारणों से उत्पन्न होती है | लम्बे समय तक नशे की लत, पौष्टिक भोजन का आभाव, कोई चोट, मधुमेह, एवं अपुष्ट धातुएं आदि एसे कारण है जो सहवास में टाइमिंग की कमी के मुख्य कारण बनते है |

आयुर्वेद चिकित्सा में टाइमिंग बढ़ाने के लिए विभिन्न शास्त्रीय योग एवं वाजीकरण दवाएं है जिनका इस्तेमाल आयुर्वेदिक चिकित्सक चिकित्सार्थ करते है | यहाँ हमने उन सभी दवाओं के बारे में बताया है | यहाँ कुछ शास्त्रीय दवाएं, कुछ नए फार्मूलेशन एवं कुछ घरेलु औषधीय योगों के बारे में जानकारी मिलेगी |

टाइमिंग बढ़ाने की देसी आयुर्वेदिक दवा

Timing Badhane ki Desi Dawa के रूप में हम सबसे पहले कुछ आयुर्वेदिक प्रोडक्ट्स की लिस्ट आपको उपलब्ध करवाते है जो अधिकतर सहवास में समय को बढ़ाने के लिए उपयोग में ली जाती है | यह आर्टिकल आपको अंत में पीडीऍफ़ में भी उपलब्ध होगा एवं उसे आप डाउनलोड भी कर सकते है |

टाइमिंग बढ़ाने की 8 देसी दवा हैं ये –

यहाँ देसी दवाओं से हमारा तात्पर्य स्वदेशी आयुर्वेदिक दवाओं से है | अत: यहाँ जीतनी भी दवाओं की जानकारी हमने आपको दी है ये कुछ शास्त्रीय आयुर्वेदिक एवं कुछ आयुर्वेद के नए फार्मूलेशन है जिनको आयुष डिपार्टमेंट से अप्रूवल मिला हुआ है | साथ ही हमने कुछ देसी घरेलु योगों के बारे में भी बताया है जिनको आप घर पर बड़ी आसानी से तैयार कर सकते है |

1. विदार्यादी चूर्ण / Vidaryadi Churna

विदार्यादी चूर्ण आयुर्वेद की शास्त्रोक्त दवा है | यह विदारीकन्द , सफ़ेद मुसली, सालमपंजा, अश्वगंधा, गोखरू एवं अकरकरा, अन्य द्रव्य जैसी आयुर्वेदिक जड़ी – बूटियों के योग से बनता है | आयुर्वेद में इसे वीर्य वर्द्धक एवं वीर्य का शोधन करने वाली दवा माना जाता है | यह नुकसान रहित आयुर्वेदिक औषधि है | सहवास में समय बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सक इसका सेवन बताते है |

मात्रा – 100 ग्राम

मूल्य (price) – 220 (अलग – अलग मूल्य फार्मेसी के आधार पर)

2. कामसुधा योग है टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा

यह आयुर्वेदिक उत्पाद एप्रूव्ड नया फार्मूलेशन है | सुपचार हेर्बल्स कंपनी का यह उत्पाद यौनेच्छा की कमी एवं टाइमिंग बढ़ाने के लिए इस्तेमाल में लिया जाता है | इसमें सभी आयुर्वेदिक जड़ी – बूटियों के एक्सट्रेक्ट का इस्तेमाल होता है | एक्सट्रेक्ट आधारित होने के कारण कैप्सूल फॉर्म में उपलब्ध होती है | सहवास में समय बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सक इसका उपयोग अन्य औषध योग जैसे शतावर्यादी घृत आदि के साथ प्रमुखता से बताते है | टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा के रूप में इसका प्रयोग वैद्य सलाह से कर सकते है |

मात्रा – 60

मूल्य – 1100 रूपए

3. शतावर्यादी घृत / Shatavari Ghrita

आयुर्वेद की शास्त्रोक्त औषधि है | यह घृत फॉर्म में उपलब्ध होती है | इसे स्त्री एवं पुरुष दोनों के लिए उत्तम माना गया है | यह वीर्य को बढ़ाने एवं शुक्राणुओं को बढ़ाने में उत्तम दवा है कामसुधा योग एवं शतावरी घृत दोनों का सेवन वैद्य परामर्श से करने पर टाइमिंग बढ़ जाती है | टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा के रूप में इनका उपयोग आयुर्वेदिक चिकित्सक बताते है |

मात्रा – 200 ग्राम

मूल्य – 155 रूपए

4. महास्तम्भन वटी / Mahastambhan Vati

महास्तम्भन वटी के बारे में हमने पूर्व में भी एक आर्टिकल लिखा है | वैसे आयुर्वेद की सभी दवाओं की निर्माण विधि एवं उपयोग के बारे में आपको इस वेबसाइट से जानकारी मिल जाएगी | आप वहाँ से पढ़ सकते है | यह टाइमिंग बढ़ाने के लिए एक अच्छी औषधि है | लेकिन इसका प्रयोग बिना वैद्य बिलकुल भी नहीं करना चाहिए | क्योंकि इसमें भांग एवं धतूरे आदि का योग रहता है अत: चिकित्सक इसे निश्चित अन्तराल के लिए ही उपयोग की सलाह देते है |

मात्रा – 5 ग्राम

मूल्य – 700 लगभग

5. शिलाप्रवंग वटी / Shilapravang Vati

धूतपापेश्वर फार्मेसी की पेटेंट दवा है | यह टाइमिंग बढ़ाने एवं यौनेच्छा की कमी में उत्तम तरीके से कार्य करती है | शिलाप्रवंग वटी में शुद्ध शिलाजीत, प्रवाल भस्म, वंग भस्म एवं सुवर्णमाक्षिक भस्म जैसे कंटेंट प्रयोग में लिए जाते है | इसका प्रयोग वैद्य सलाह से करना चाहिए | हालाँकि दवा नुकसान रहित है लेकिन अधिक मात्रा एवं गलत मात्रा दुष्प्रभाव दिखा सकती है |

मात्रा – 30 टेबलेट

मूल्य – 725 रूपए

6. शास्त्रोक्त वीर्य शोधन वटी है टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा

यह भस्मों से निर्मित आयुर्वेदिक क्लासिकल दवा है | इसमें रजत भस्म, वंग भस्म, प्रवाल भस्म आदि भस्मों के सहयोग से इसका निर्माण होता है | टाइमिंग बढ़ाने के लिए वैद्य सलाह से ही इस दवा का उपयोग किया जा सकता है | इस देशी दवा में रस औषधियों एवं भस्मों का उपयोग होता है अत: सेल्फ मेडिकेशन नुकसान दयाक हो सकता है |

मात्रा – 100 टेबलेट

मूल्य – 660 रूपए

7. वानरी गुटिका से बढती है टाइमिंग

वानरी वटी या गुटिका भी शास्तोक्त औषधियों में आती है | इसका निर्माण कौंच के बीजों से किया जाता है | यह दवा वीर्य वर्द्धक, बलकारक एवं यौन टॉनिक के रूप में प्रसिद्द है | हालाँकि यह दवा अब किसी भी फार्मेसी द्वारा निर्मित नहीं की जाती | अत: उपयोग से पहले वैद्य सलाह आवश्यक है |

8. कामदेव चूर्ण

कामदेव चूर्ण आयुर्वेद चिकित्सा की शास्त्रोक्त औषधियों में गिनी जाती है | यह वाजीकारक, बलवर्द्धक, रसायन एवं काम शक्ति का वर्द्धक करने वाली दवा है | वीर्य का पतलापन, कमजोर यौन शक्ति आदि का उपचार इस वैद्य से किया जाता है | साथ ही शरिर में धातुओं का वर्द्धन करने के लिए इस दवा का उपयोग किया जाता है |

मात्रा – 250 ग्राम

मूल्य – 450 रूपए

9. स्तम्भन वटी

क्लासिकल प्रिपरेशन वाली दवा है | यह टाइमिंग बढ़ाने की देशी दवा के रूप में देखि जा सकती है | सहवास में समय को बरकरार रखने के लिए वैद्य स्तम्भन वटी का सेवन करवाते है | स्तम्भन वटी वीर्य दोषों को दूर करके टाइमिंग बढ़ाने का कार्य करती है | इस दवा का उपयोग वैद्य सलाह से करना चाहिए |

घरेलु उपाय टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा के रूप में

  • यदि टाइमिंग की समस्या वीर्य की उष्णता के कारण हो तो सुगंधवाला, कपूर एवं सफ़ेद चन्दन इन तीनो को सामान मात्रा में लेकर इनका चूर्ण करलें एवं इस चूर्ण में पानी मिलाकर लेप तैयार करके लिंग पर लगाने से सहवास में समय बढ़ जाता है |
  • सर्दियों में शीघ्रपतन की शिकायत हो तो अकरकरा एवं कबाब चीनी के चूर्ण का लेप बना कर लगाने से टाइमिंग बढती है |
  • गिलोय सत्व, वंशलोचन एवं छोटी इलायची और गोखरू इन सभी को समान मात्रा में लेकर इनका चूर्ण बना कर 5 ग्राम की मात्रा में मक्खन मिलाकर सेवन करने से टाइमिंग बढती है | इसे आप टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा मान सकते है |
  • टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा के रूप में असली अकरकरा के चूर्ण को दूध में मिलाकर सेवन करने से समय बढ़ता है |
  • बाजार में अश्वगंधा पाक, मुसली पाक एवं बादाम पाक जैसी आयुर्वेदिक दवा मिलती है जिनका उपयोग करने से टाइमिंग बढती है |
  • सफ़ेद मुसली, तालमखाना, छोटी इलायची, के बीज, सालम मिश्री एवं वंशलोचन सभी को समान मात्रा में लेकर इनका बारीक़ चूर्ण बना लें | इस चूर्ण को नित्य 5 ग्राम की मात्रा में सुबह – शाम दूध के साथ सेवन करने से सहवास में समय बढ़ता है |
  • दालचीनी तेल एवं जैतून का तेल दोनों को मिलाकर एक शीशी में भर लें | इन मिश्रित तेल से जननांग की मस्साज करने से सहवास में समय बढ़ता है |
  • विदारीकंद का चूर्ण एवं शतावरी का चूर्ण दोनों को समान भाग में लेकर दूध के साथ नित्य सेवन किया जा सकता है |
  • सेमलकंद चूर्ण, विदारीकंद चूर्ण एवं मुलेठी चूर्ण तीनों को समान भाग लेकर सेवन करने से वीर्य गाढ़ा होता है एवं सहवास में समय भी बढ़ता है |
  • तटाइमिंग बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक देसी दवा लेने से पहले व्यक्ति को अपनी कब्ज का उपचार करना चाहिए | क्योंकि कब्ज शीघ्रपतन का मुख्य कारण होती है | अत: कब्जनाशक आयुर्वेदिक दवा जैसे – पंचसकार, तरुणीकुसुमाकर आदि का सेवन वैद्य परामर्श से नित्य रात्रि में सोने से पहले करना चाहिए |

टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा लिस्ट / Increase timing Desi Medicine List with PDF Download

क्रमांक दवा का नाम उपयोग
1.कामसुधा योग इरेक्टाइल डिसफंक्शन, वात व्रद्धी एवं यौन दुर्बलताओं में उपयोगी
2. विदार्यादी चूर्ण शुक्र वर्द्धक
3. शतावरी घृत वीर्य बढ़ाने एवं शुक्राणुओं को बढ़ाने में उपयोगी
4. महास्तम्भन वटी स्तंभन दोषों में उपयोगी , टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा
5. शिलाप्रवंग स्पेशल इरेक्टाइल डिसफंक्शन एवं यौन शक्ति वर्द्धक
6. वीर्य शोधन वटी वीर्य शोधन में उपयोगी
7. शिद्ध मकरध्वज यौनशक्ति वर्द्धक रसायन
8. धातुपौष्टिक चूर्ण धातुओं को पुष्ट करने में उपयोगी
9. वानरी गुटिका टाइमिंग बढ़ाने की देसी दवा
10. चंदनादी तेल टाइमिंग बढ़ाने के लिए मसाज में उपयोगी
11. मृग्नभ्यादी वटी शीघ्रपतन में उपयोगी
12. कामदेव चूर्ण कामशक्ति बढ़ाने में फायदेमंद
13. स्तंभन वटी स्तंभन दोष में उपयोगी
14. अश्वगंधाघृत बल्य एवं शक्ति वर्द्धक
15. मद्नान्द मोदक यौनकमजोरियों में लाभदायक
16. कॉन्फीडो कैप्सूल्स यौनेच्छा बढ़ाने में फायदेमंद
17. मुसली पाक वीर्य वर्द्धक एवं शक्ति वर्द्धक
18. अश्वगंधा पाक शरीर में नई उर्जा का संचार करने में सहायक
19. कौंच पाक वीर्य वर्द्धक दवा
20. शुक्रवल्लभ रस शुक्र विकारों में फायदेमंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *