आहार, स्वास्थ्य

“क्विनोआ” सुपर फ़ूड खाने से होंगे सेहत को ज्यादा फायदे

quinoa in hindi – इन दिनों ट्रेंड में एक नया फ़ूड आया है , जो क्विनोआ नाम से पुकारा जाता है | यह दक्षिणी अमेरिका का अनाज है जिसका क्रेज अब पुरे विश्व में फ़ैल चूका है | दक्षिणी अमेरिका के पेरू और बोलीविया जैसे देशों में हजारों सालों से खाया जाता रहा है |

इस सुपर फ़ूड को खाने का यह ट्रेंड भारत में हाल ही के वर्षों में शुरू हुआ है | भले ही ग्रामीण एवं मध्यम वर्गीय शहरों में इसकी पहुँच न हो लेकिन मेट्रो शहरों जैसे दिल्ली, मुंबई, जयपुर, चंडीगढ़, कोलकाता जैसे शहरों में यह आसानी से उपलब्ध हो जाता है |

क्यों है क्विनोआ इतना ट्रेंड में ? / quinoa trending food

यह भी गेंहू, चावल, जौ, मक्का की तरह एक अनाज ही है लेकिन इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व इसे सुपर फ़ूड बनाते है | इसमें फाइबर, प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम एवं कई अन्य मिनरल्स होते है जो इसे स्वास्थ्य की द्रष्टि से सुपर फ़ूड बनांते है |

quinoa in hindi
quinoa

क्या है quinoa / क्विनोआ खाने के फायदे

1 . फाइबर से भरपूर – क्विनोआ में सामान्य अनाज के मुकाबले दोगुनी मात्रा में फाइबर मौजूद रहते है | अधिक फाइबर होने के कारण पाचन को दुरस्त रखता है | जिन्हें कब्ज एवं पाचन की समस्या होती है उनके लिए यह अति फायदेमंद भोजन कहा जा सकता है |

साथ ही यह वजन को भी नहीं बढ़ने देता | अत: वजन कम करने में भी इसे लाभदायक माना जाता है |

२. रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाने वाला – इसमें फायटोकेमिकल भरपूर मात्रा में उपस्थित रहते है | साथ ही माइक्रोन्यूट्रीएंट्स एवं एंटीओक्सिडेंट भी प्रचुर मात्रा में होते है | अत: स्वास्थ्य की द्रष्टि से यह रोगों से लड़ने में शरीर को सामर्थ्य पर्दान करता है |

साथ ही क्विनोआ में एंटीइन्फ्लामेंटरी, एंटीवायरल एवं एंटीडिप्रेसन प्रॉपर्टीज भी रहती है जो शरीर में सुजन एवं दर्द आदि को ख़त्म करने में सहायक होती है |

३. प्रोटीन का अच्छा स्रोत है क्विनोआ – इसकी प्रति १०० ग्राम मात्रा में ४.4 ग्राम प्रोटीन रहता है | प्रोटीन के प्राकृतिक स्रोतों में बहुत कम मात्रा एमिनो अम्ल रहते है लेकिन क्विनोआ में इसके विपरीत कुल ९ प्रकार के एमिनो अम्ल की उपलब्धता रहती है | जो इसे प्रोटीन की द्रष्टि से अच्छा स्रोत बनाती है |

४. मिनरल्स से भरपूर – क्विनोआ में चारों प्रमुख मिनरल्स की उपलब्धता रहती है | मैग्नेशियम, पॉटैशियम, जिंक एवं आयरन हमारे शरीर के लिए अत्यंत आवश्यक होते है | ये चारों मिनरल्स की उपस्थिति इस सुपर फ़ूड में होती है | अत: स्वास्थ्य की द्रष्टि से यह इसे और अधिक लाभदायक बनाती है |

५. ग्लूटेन फ्री है क्विनोआ – जिन लोगों को ग्लूटेन फ्री भोजन खाने की सलाह चिकित्सक द्वारा दी जाती है उनके लिए यह अच्छा विकल्प है | यह पूर्ण रूप से ग्लूटेन फ्री भोजन होता है | अत: ग्लूटेन फ्री भोजन का विकल्प ढूंढने वालों के लिए आदर्श डाइट कही जा सकती है |

६. मधुमेह रोगियों के लिए है उपयोगी – क्विनोआ मधुमेह से पीड़ित लोगों के लिए फायदेमंद डाइट मानी जाती है | इसमें उपस्थित फाइबर, कार्ब्स एवं मिनरल्स इसे मधुमेह रोगियों के लिए लाभदायक भोजन बनाते है | यह रक्त शर्करा को बढ़ने से रोकने में सहायक सिद्ध होता है |

क्विनोआ का इस्तेमाल कैसे किया जाये ?

इसका इस्तेमाल कई प्रकार से किया जा सकता है | यह एक अनाज है ; अत: आप इससे विभिन्न पकवान बनाकर सेवन कर सकते है | इसे सलाद, चावल की जगह, ओट्स बनाकर एवं बिन्स आदि के साथ पकाकर खाया जा सकता है |

  • इसे चावल की तरह खाया जा सकता है | चावल की तरह पकाकर या पुलाव आदि में चावल की जगह इसका इस्तेमाल करके खाया जा सकता है |
  • क्विनोआ को बीन्स के साथ पकाकर एवं इसे मसालेदार बनाकर खाया जा सकता है |
  • सलाद के साथ मिलाकर खा सकते है | सलाद में इसे क्विनोआ को पकाकर ऊपर से डालें एवं स्वाद के लिए नमक आदि छिड़कर सेवन करें |
  • इसे ओट्स की तरह भी खा सकते है | जिस प्रकार से ओट्स बनते है उसी प्रकार से इन्हें बनायें और सेवन करें |
  • क्विनोआ को सूप आदि में मिलाकर भी खाया जा सकता है |

लेख डॉ शिखा शर्मा के लेख से उदृत

धन्यवाद |

Avatar

About स्वदेशी उपचार

स्वदेशी उपचार आयुर्वेद को समर्पित वेब पोर्टल है | यहाँ हम आयुर्वेद से सम्बंधित शास्त्रोक्त जानकारियां आम लोगों तक पहुंचाते है | वेबसाइट में उपलब्ध प्रत्येक लेख एक्सपर्ट आयुर्वेदिक चिकित्सकों, फार्मासिस्ट (आयुर्वेदिक) एवं अन्य आयुर्वेद विशेषज्ञों द्वारा लिखा जाता है | हमारा मुख्य उद्देश्य आयुर्वेद के माध्यम से सेहत से जुडी सटीक जानकारी आप लोगों तक पहुँचाना है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.