नजला एवं जुकाम में अपनाएं ये 20 प्रमाणित आयुर्वेदिक उपाय

नजला एवं जुकाम में अपनाएं ये 20 घरेलु प्रमाणिक नुस्खे

स्वदेशी उपचार नियमित रूप से अपने पाठकों के बीच आयुर्वेद चिकित्सा एवं परम्परागत घरेलु चिकित्सा पद्धति के प्रमाणिक नुस्खे समय – समय पर प्रस्तुत करते आया है | आज इसी कड़ी में हम सर्दियों के मौसम की सबसे बड़ी एवं आम समस्या “नजला एवं जुकाम” के लिए प्रमाणिक नुस्खे लेकर आयें है | आशा है आपके लिए ये नुस्खे लाभदायक सिद्ध होंगे |

जुकाम

जुकाम एवं नजला की समस्या में आप आयुर्वेद के इन 20 प्रमाणिक नुस्खों को अपनाकर आसानी से इन रोगों पर विजय हासिल कर सकते है | परम्परागत चिकित्सा एवं भारतीय घरेलु चिकित्सा में इन नुस्खों का अपना एक अलग महत्व है |

  1. शक्कर एवं चन्दरस का धुंवा नाक में लेने से जुकाम में आराम मिल जाता है |
  2. जुकाम से पीड़ित व्यक्ति के सिर पर गरम कपडे की पट्टी करने से गर्मी अंदर पहुँच कर जुकाम से निजात दिलाती है |
  3. झाऊ के पतियों को गरम पानी में उबाल कर इसका बफारा लेने से जुकाम से पीड़ित को तुरंत आराम मिलता है |
  4. नजले की वजह से अगर सिरदर्द हो रहा हो तो पुरानी रुई की बती बना कर नाक में डालने से उसी नाक से नजला बह कर निकलने लगता है एवं सिरदर्द से मुक्ति मिलती है |
  5. नजला रोग में समंदर फल को प्रसूता स्त्री के दूध में पीसकर नाक में डालने से जल्द ही नजला से मुक्ति मिलने की राह आसन हो जाती है |
  6. नौसादर, कलोंजी एवं सोंठ इन तीनो को बारीक़ पीसकर कपडे में बांध ले | इस कपडे को बार – बार जुकाम से पीड़ित को सुंघाने से आराम मिलता है |
  7. अगर आपको जुकाम ताजा हो तो सिर पर गरम जल की पट्टी करें, आराम मिलेगा |
  8. शास्त्रोक्त विधि से निर्मित घरेलु च्यवनप्राश का सेवन पुरे सर्दियों के मौसम करने से जुकाम एवं नजले से बचा जा सकता है एवं जिन्हें ये रोग हो गए हो वे भी जल्द ही रोग से मुक्त होने लगते है |
  9. कफज प्रकृति के व्यक्ति जिन्हें जल्दी ही जुकाम एवं नजले की समस्या हो जाती हो उन्हें 7 कालीमिर्च थोड़े से पानी में पीसकर निगलने से जल्द ही आराम मिलता है |
  10. नजले के कारण नाक से बदबू आना एवं कोई घाव होने पर गुलरोगन में कपूर मिलाकर नाक में डालने से तुरंत आराम मिलता है एवं रोग भी समाप्त होता है |
  11. देशी तरीके से उगाई गई गेंहू का चोकर एवं गुलबनफसा इन दोनों का काढ़ा पिने से जुकाम से छुटकारा मिलता है |
  12. सर्दी के कारण हुई जुकाम एवं नजला की समस्या में पोस्त 1 तोला एवं सोंठ 1 तोला दोनों का काढ़ा बना कर सेवन करने से नजला और जुकाम खत्म हो जाती है |
  13. कपडे में कपूर को बांधले | इसे दिन में कई बार सूंघने से भी जुकाम में आराम मिलता है |
  14. लौंग को पीसकर लगाने से भी नजला और जुकाम में आराम मिलता है |
  15. अगर नजला बंद हो गया हो एवं सिर में दर्द रहता हो तो हरड के बीज 6 ग्राम, सफ़ेद चिरमिटी की मींगी 4 ग्राम, कालीमिर्च 2 ग्राम एवं नौसादर 1 ग्राम लेकर , इन्हें बारीक़ पीसकर एवं छानकर रखलें | इस चूर्ण की थोड़ी सी नस्य लेने से नजला बहने लगता है एवं नजले के कारण होने वाले सिरदर्द से छुटकारा मिलता है |
  16. कलोंजी को बारीक़ पीसकर गुलरोगन में मिलाकर सूंघने से आराम मिलता है |
  17. नजले के कारण होने वाले सिरदर्द में चुना एवं नौसादर को समान मात्रा में मिलाकर सूंघने से सिरदर्द में आराम आता है |
  18. सोंठ एवं कायफल को पानी में घिसकर एवं थोडा गरम करके माथे और छाती पर लेप करने से सिरदर्द और जुकाम से मुक्ति मिलती है |
  19. अडूसे के पंचांग का काढ़ा तैयार करलें | इस काढ़े को सेवन करने से जुकाम और नजले में आराम मिलता है |
  20. कूट का बफारा देने एवं कोरे कागज का थोड़ा सा धुंवा जुकाम से पीड़ित को देने पर तुरंत जुकाम में आराम मिलता है |

 

Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.