शीघ्र स्खलन का आयुर्वेदिक उपाय – मालकांगनी योग

शीघ्र स्खलन (शीघ्र पतन) क्या है ? / What is Premature Ejaculation in Hindi ?

शीघ्र स्खलन या शीघ्रपतन कोई रोग नहीं है | सहवास के समय स्त्री और पुरुष दोनों की एक चरम सीमा होती है जहाँ पहुँचने के बाद दोनों स्खलित हो जाते है | लेकिन शारीरिक और मानसिक वजहों से जब पुरुष द्वारा स्त्री के चरम सीमा तक पहुँचने से पहले ही स्खलन कर दिया जाए तो यह शीघ्रपतन या शीघ्र स्खलन कहलाता है | यह रोग पुरुषों को अधिक होता है , लेकिन एसा नहीं है की यह सिर्फ पुरुषों का ही रोग है | दर:शल शीघ्रपतन से स्त्री और पुरुष दोनों ग्रषित हो सकते है | लेकिन अधिकतर देखने में यही आता है की इस समस्या से पुरुष ही अधिक पीड़ित होते है |

शीघ्र स्खलन

आखिर पुरुष क्यों होते है इसके शिकार ?

पुरुष और स्त्री दोनों की मानसिक संवेदनाएं कुछ – कुछ भिन्न होती है | जहाँ स्त्री अधिक महत्वकांक्षी नहीं होती लेकिन पुरुष हमेशां अधिक महत्वकांक्षी होता है | स्त्रियों और पुरुषों की कमोतेजक भावनाएं भी भिन्न होती है | स्त्रियाँ अधिक संयमी और नियंत्रित स्वाभाव की होती है वहीँ पुरुष अधिक चंचल और तीव्र कामुक विचारों के होते है | पुरुष अपनी चंचलता और तीव्र आक्रमण कारी कमोतेजना के कारण जल्दी ही स्खलित हो जाते है |

साथ ही इन्टरनेट पर आसानी से उपलब्ध कामुक सामग्री, नशीले पदार्थों का सेवन, गलत आहार – विहार, व्यस्तता के कारण थकान भरी जिन्दगी और बदलते वातावरण ने इस समस्या को और अधिक प्रभावी बना दिया है |

क्या है शीघ्र स्खलन के कारण ?

शीघ्र स्खलन के बहुत से कारण हो सकते है जैसे –

  • अपौष्टिक भोजन
  • नशे का सेवन |
  • अधिक तनाव और चिंता करना |
  • अधिक कामुक विचारों से ग्रष्त होना |
  • जननागों की विकृति |
  • कोई शारीरिक चोट |
  • दवाइयों के साइड इफेक्ट्स |
  • धातु विकार |
  • शारीरिक कमजोरी |
  • हार्मोन्स की गड़बड़ी |
  • नए नए साथी के साथ सहवास |
  • अश्लील साहित्य का आदि होना |
  • हस्तमैथुन करना |

शीघ्र स्खलन (शीघ्रपतन) के इलाज

शीघ्र स्खलन के इलाज के लिए हम आज आपको एक एसा योग बताने जा रहे है जो वैध श्री अवतार सिंह का बताया हुआ है | यह योग मालकांगनी , भृंगराज, दूध और शहद के मिलाने से बनता है | अगर इस योग को सही तरीके से निर्माण करके और उचित निर्देशानुसार लिया जाए तो निश्चित ही शीघ्र स्खलन और नपुंसकता जैसी समस्या से छुटकारा मिलता है |

इस योग को बनाने के लिए निम्न सामग्री ले

  1. मालकांगनी – 1 किलो |
  2. भृंगराज का ताजा रस – 1.25 KG
  3. गाय का दूध – 2.5 KG
  4. जल  – 2.5 KG |
  5. शहद – 2.5 KG |

शीघ्र स्खलन के लिए योग बनाने की विधि – एक मिटटी के पात्र में मालकांगनी को रख कर ऊपर से कपडे से छना भृंगराज का रस डाल दें | रातभर भीगने दें | प्रात: काल उस पात्र में से मालकांगनी को निकालकर रस को फेंक दें | फिर दूध और जल के साथ मालकांगनी को आग पर चढ़ा दें | जल और दूध के सुख जाने पर उसे उतार लें | अब मालकांगनी के दाने और उसपर लगे हुए खोये को पत्थर पर महीन पीसले | पीसे हुए मालकांगनी की लुग्दी में शहद मिलाकर बरतन में ढँक कर रख ले | शीघ्रपतन और नपुंसकता के लिए आपका योग तैयार है |

सेवन मात्रा – 3 ग्राम से 6 ग्राम तक सेवन करे | इसका सेवन सुबह – शाम करे | पहले सप्ताह में केवल प्रात: काल ही सेवन करना चाहिए | फिर दुसरे सप्ताह में दोनों समय अर्थात सुबह और शाम सेवन शुरू कर दे | लगभग 40 दिनों तक सेवन करने का विधान है |

मालकांगनी योग के गुण 

यह योग पुरुषों के वाजीकरण के लिए उत्तम है | शीघ्रपतन को जड़ से खत्म करने की शक्ति इस योग में है | साथ ही नपुंसकता, बुढ़ापा, वात – प्रकोप, अंगो का दर्द, धातु दुर्बलता आदि में रामबाण इलाज करता है |

नपुंसकता एवं शीघ्रस्खलन जैसी समस्या होने पर व्यक्ति कई बार बेबुनियादी कंपनियों के उत्पाद सेवन करने लगते है | जिनसे उनको फायदा कम नुकसान ज्यादा होता है |

अत: अगर इन समस्याओं के लिए आप कोई उत्पाद लेने की सोच रहे है तो डाबर कंपनी की ” Dabur Shilajit Gold & Kesar Capsules” का इस्तेमाल चिकित्सक की देख रेख में कर सकते है |


डाबर शिलाजीत Click Here to Buy on Amazon


शीघ्र स्खलन और नपुंसकता में कौंच का सेवन भी अति फलदायी होता है | इसलिए शीघ्रपतन में कौंच के योग के लिए कृपया इस पोस्ट को पढ़ें – मर्दाना ताकत में रामबाण कौंच 

 

धन्यवाद |

Related Post

तालीशपत्र – परिचय, गुण एवं श्वास रोगों में त... तालीशपत्र / Talishpatra In Hindi (Albies webiana Lindle) Talishpatra in hindi - तालीशपत्र एक आयुर्वेदिक हर्बल प्लांट (पौधा) है | इसके पतों का आयुर्वे...
ब्राह्मी चूर्ण – निर्माण विधि और सेवन के फाय... ⇐ ब्राह्मी चूर्ण ⇒ ब्राह्मी (Bacapa monnieri) एक औषधिये पौधा है | जो मुख्या रूप से हमारे भारत में उपजाऊ मैदानों में उगता है | यह जमीन पर फ़ैल कर ही ...
अगर आप भी दूध पीते है तो यह पोस्ट आपके लिए है R... आज की  यह पोस्ट स्वर्गीय श्री राजीव दीक्षित जी के द्वारा बताये गए , दूध पिने के सही नियमो का संकलन है | राजीव दीक्षित को किसी सज्जन ने एक सभा में पूछ...
चमकती त्वचा एवं शारीरिक सौन्दर्य के लिए अपनाएं ये ... चमकती त्वचा एवं शारीरिक सौन्दर्य के लिए अपनाएं ये 7 योग सुन्दरता के लिए योग :- चमकता - दमकता सौन्दर्य किसे नहीं चाहिए ! चमकती त्वचा एवं सुन्दर काया स...
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.