यौन समस्याओं का काल कामसुधा योग

शीघ्रपतन, नपुंसकता एवं स्वप्नदोष का काल कामसुधा योग

अगर आप शीघ्रपतन, यौनेच्छा की कमी, नपुंसकता, वीर्य का पतलापन एवं स्वप्नदोष जैसी समस्याओं से पीड़ित है तो कामसुधा योग आपके लीये अमृत समान उपयोगी साबित होगा | इस औषधि  में ऐसी जड़ी – बूटियां है जो पुरुष प्रजनन अंगो पर कार्य करती है | इसमें उपस्थित बलवर्द्धक औषधियां शरीर में वीर्य को गाढ़ा करने का कार्य करती है साथ ही नविन वीर्य का निर्माण करती है | 

दूसरा सबसे महत्वपूर्ण अन्य दवाओ की तरह गलत बातों का दावा हम नहीं करते | अगर आपको असली आयुर्वेद का परिणाम देखना है तो निश्चित रूप से आपको इसे एक बार प्रयोग में लेना चाहिए | अगर आप यौन कमजोरियों से पीड़ित है तो नियमितरूप से  निर्देशित मात्रा एवं अनुपान अनुसार प्रयोग करें | रोग जड़ से खत्म हो जायेगा |

कामसुधा योग आपके जीवन में एक नयी उर्जा का दीप प्रज्वलित करने वाला रसायन है | यह शरीर में सप्तधातुओं का वर्द्धन करती है | शुक्र धातु को बढ़ा कर वीर्य की कमी से होने वाले रोगों में स्थाई रिजल्ट देती है | 

यह अन्य दवाओं से बेहतर क्यों है ?

क्योंकि यह अन्य दवाओं की तरह अश्वगंधा, शतावरी का मिक्सर नहीं है | कामसुधा योग में कुल 21 जड़ी – बूटियां है | ये जड़ी – बूटियां हमारे आयुर्वेद ग्रंथों में वाजीकरण औषधियों के रूप में वर्णित है | 

वाजीकरण का अर्थ होता है सामान्य पुरुष को घोड़े जैसी ताकत देना | आयुर्वेद ग्रंथो में वर्णित है कि प्रत्येक व्यक्ति को वर्ष भर में एक बार इन औषधियों का सेवन करना चाहिए ताकि बुढ़ापे में भी सेक्सुअल पॉवर में कोई कमी न रहे साथ ही ये व्यक्ति की रोगप्रतिरोधक क्षमता का विकास भी करती है | 

कामसुधा योग में 21 वाजीकरण जड़ी – बूटियों के एक्सट्रेक्ट का इस्तेमाल किया गया है | एक्सट्रेक्ट का अर्थ है कि जड़ी – बूटियों के सिर्फ उपयोगी सार तत्वों को लेकर ही मेडिसिन का निर्माण किया जाये | इस प्रकार की दवाएं अधिक गुणकारी एवं तीव्रता से असर दिखने वाली होती है | 

साथ ही यह दवा दुष्प्रभाव रहित है | इसमें किसी भी प्रकार के केमिकल या प्रिजरवेटिव का इस्तेमाल नहीं किया गया है | अत: स्वास्थ्य पर कोई भी दुष्प्रभाव नहीं होता | 

वाजीकरणमन्वीच्छेत्सततं विषयी पुमान |
तुष्टिः पुष्टिर्पत्यं च गुणवत्तत्र संश्रीतम ||

अर्थात वाजीकरण सिद्धांत की सहायता से व्यक्ति शारीरिक, मानसिक, संतोष एवं संतान प्राप्ति जैसी सभी खुशियाँ प्राप्त कर सकता है | इससे व्यक्ति घोड़े जैसी कामशक्ति प्राप्त कर सकता है | -27%

दीपावली ऑफर

★★★★★ 1100

1499

अभी खरीदें 7 days left

ऑफर सिमित समय के लिए जल्द करें | दीपावली के पश्चात मूल्य वृद्धि संभावित है | 

विश्वनीय एवं प्रमाणित आयुर्वेदिक औषधि

Authentic laurel wreath on white background. Vector Illustration
7097853_preview-removebg-preview
No-Side-Effect-2-150x150-removebg-preview
829-8291119_logo-khadi-india-logo
500_F_94290272_F9ltMH9fqPP1cHyl41PkeoHV1ChRb1Eh
gmp-good-manufacturing-practice-certified

Previous Next

कामसुधा योग की विशेषताएं

  • हमारे सूत्रीकरण में, हमने उचित मात्रा में जड़ी बूटियों के अर्क का उपयोग किया जो कि लेबल पर उल्लिखित है।
  • उच्च केंद्रित शुद्ध और मानकीकृत हर्बल अर्क (10: 1)
  • कोई सिंथेटिक रंग, रसायन, और कृत्रिम स्वादिष्ट बनाने का मसाला एजेंट नहीं ।
  • प्रभावकारिता पहले से ही परीक्षण किया गया है, नैदानिक ​​परीक्षणों के दौरान साबित हुआ।
  • जीएमपी प्रमाणित उत्पाद
  • उत्पाद KVIC प्रायोजित विनिर्माण इकाई (भारत सरकार) में निर्मित है।
  • तीव्रता से अब्सोर्ब होने वाली आयुर्वेदिक दवा देखें ऊपर निर्देशित इमेज

यहाँ से खरीदें

सेवन विधि एवं परहेज

कामसुधा योग का सेवन नियमित सुबह शाम 1 – 1 कैप्सूल की मात्रा में दूध के साथ किया जाना चाहिए | अनुपान के रूप में गुनगुना दूध अति उत्तम है अगर दूध की व्यवस्था न हो तो गुनगुने जल के साथ भी सेवन की जा सकती है | 

 

परहेज के रूप में जब तक दवा का सेवन करना हो तब तक अधिक मसालेदार भोजन, फ़ास्ट फ़ूड एवं तली – भुनी चीजों से परहेज रखें | सुपाच्य भोजन को अपने रूटीन आहार में शामिल करें | शराब आदि नशे को कम करने का प्रयत्न करें | दवा निश्चित रूप से रोग की जड़ को ख़त्म करेगी | 

कामसुधा योग के बारे में सामान्य सवाल – जवाब

Most frequent questions and answers

कामसुधा योग किसे लेना चाहिए ?

जिन्हें अपनी शारीरिक क्षमता बढानी हो उन्हें इसका सेवन करना चाहिए | शीघ्रपतन, धातु दुर्बलता, काम-दोष, स्वप्नदोष से पीड़ितों के लिए उपयोगी असली आयुर्वेदिक दवा है |

यह उत्पाद कितने दिन में असर करना शुरू करती है ?

सामान्यत: कोई भी आयुर्वेद उत्पाद आपकी प्रकृति एवं रोग के आधार पर अपना असर करती है | अगर रोग अधिक है तो उसे ठीक होने में समय भी अधिक लगता है | अमूमन कामसुधा योग 15 दिन में अपना असर दिखाना शुरू कर देती है | इस पैक में एक महीने की दवा है |

कामसुधा योग मेरे लिए कितना उपयोगी है ?

यह  आयुर्वेद के वाजीकरण सिद्धांत पर तैयार की गई है अत: इसका सेवन करना काफी फायदेमंद है | यह आपके शरीर में धातुओं का शोधन करके शरीर को पुष्ट करती है | खाया – पीया सब लगता है |

सेवन करते समय क्या परहेज रखें ?

कामसुधा का सेवन करते समय खट्टी, चटपटी, फ़ास्ट फ़ूड, नशे एवं तेलिय पदार्थों का सेवन बंद कर देना चाहिये | अगर नियमानुसार लिया जाए तो परिणाम भी जल्दी प्राप्त होते है |

यह उत्पाद किस-किस रोग में असरकारक है ?

शीघ्रपतन, धातु विकार, कामेच्छा की कमी, स्वप्नदोष एवं शारीरिक कमजोरी में असरकारक है |

इसको कैसे सेवन करना है ?​

कामसुधा योग का सेवन 1 – 1 कैप. की मात्रा में एक गिलास गुनगुने दूध के साथ किया जाना चाहिए | 

Free Shipping

We Delivers across all Villages, Towns, Cities & States; Across all over India.

Cash On Delivery / Credit / Debit card / Netbanking Buy Now Note We recommend a consultation with an Ayurvedic physician before the consumption of these products as each body & individual is unique. For a free consultation with our in-house physician please call us on +918000733602 or email us on [email protected]