Uncategorized
बियर योगा – दुनिया में फ़ैल रहा है इसका क्रेज

बियर योग योग के विभिन्न आसनों के बारे में तो आपको पता ही होगा , लेकिन क्या अपने कभी सुना है की बियर पीकर भी योग करते है ? जी हाँ आस्ट्रेलिया में बियर योग का प्रचलन  काफी बढ़ गया है और अब इसे अन्य पश्चिमी देश भी अपना रहे है | जो लोग बियर और शराब से नफरत करते है शायद उन्हें ...

READ MORE +
मालिश के स्वास्थ्य लाभ / Health Benefits Of Massage

मालिश के फायदेHealth Benefits of Massageआयुर्वेद में मालिश को अभ्यंग कहा जाता है | आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति में प्राचीन समय से ही अभ्यंग का इस्तेमाल किया जाता रहा है | सामान्य शब्दों में कहे तो मालिश एक प्राकृतिक भेंट है जो मनुष्य , जानवर और वनस्पतियों सभी के लिए फायदेमंद होती है | ...

READ MORE +
रोज 1 आम खाए और रहे स्वस्थ – आम के स्वास्थ्य लाभ

स्वाद और मिठास से भरा आम किसको पसंद नहीं है ! भारत में गर्मियों के सीजन में सबसे ज्यादा आम का उपभोग रहता है | स्वाद और रस के मामले में आम की बराबरी कोई फल नहीं कर सकता | यही कारण है की गर्मियों की शुरुआत होते ही बच्चो से लेकर बूढों तक सब को आम का इंतजार रहता है | स्वाद के साथ - साथ आम हमारे ...

READ MORE +
12 महीनों के आहार नियम – जिनका पालन करके आप स्वस्थ रह सकते है

12 महीनों के आहार नियमवर्तमान समय की भाग दौड़ भरी जिंदगी में हम आहार के नियमो का पालन बिल्कुल भी नहीं करते और परिणाम स्वरुप हमारा शरीर बीमारियों के पकड़ में आ जाता है | इस में हम दोषी खुद है लेकिन दोष देते है बदले हुए मौसम को ! अब कोई व्यक्ति सर्दी के मौसम में ठंडी वस्तुओं का प्रयोग करेगा तो ...

READ MORE +
सौंफ के फायदे – गर्मियों में कीजिये सौंफ का उपयोग और रहे स्वस्थ

सौंफ / Fennel सौंफ से हर कोई परिचित है , इसका उपयोग सभी घरो में औषधीय एवं मसाले के रूप में किया जाता है | भारत में सर्वत्र इसकी खेती की जाती है | सौंफ का क्षुप 5 से 6 फीट लम्बा एवं अत्यंत सुगन्धित होता है | इसके खेत के पास से गुजरने पर भी आपको इसकी सुगंध से पता चल जाता है ...

READ MORE +
इन्द्रायण (गड्तुम्बा) के फायदे जानले काम आयेंगे |

इन्द्रायण (गड़तुम्बा) सम्पूर्ण भारत में पायी जाने वाली वर्षायु लता है जो समुद्र के किनारे या बालू मिटटी में उगती है | यह दिखने में तरबूज की बेल की तरह ही होती है बस इसके पत्ते थोड़े छोटे होते है जो 2 से 3 इंच लम्बे एवं 2 इंच चौड़े होते है | इसके पुष्प पीले रंग के होते है , फल ...

READ MORE +
लौंग / लवंग – लौंग के फायदे और देसी  नुस्खे

लौंग / लवंग / Clove / Caryophyllus aromaticus : परिचय लौंग भारतीय रसोई घर का एक अभिन्न मसाला जिसे कौन नहीं जनता ? भारत में सभी घरो में लौंग का इस्तेमाल मसाले के रूप में  या घरेलु उपचार के रूप में प्रयोग किया जाता है | परम्परागत चिकित्सा पद्धति एवं घरेलु नुस्खो में लौंग का ...

READ MORE +
आखिर क्यों पहनती है विवाहित महिलाये चाँदी की पायल जाने कारण और स्वास्थ्य लाभ ||

चूड़ी, पायल और बिछिया पहनने के पीछे है वैज्ञानिक कारण |सम्पूर्ण भारत में विवाहित स्त्रियाँ विभिन्न धर्मो के अनुसार अपने सोलह श्रंगार करने में अलग -अलग परकार के आभूषणों को पहनती है | ये आभूषण और इनका पहनावा काफी दिलचस्प होता है इस पहनावे के पीछे कुछ धार्मिक कारण तथा पुरातन मान्यताये  होती  है ...

READ MORE +
घर पर बनाये ये आयुर्वेदिक फेसपैक और पाए चमकती त्वचा | multani mitti face pack for fairness

multani mitti face pack for fairness आज के युग में हर कोई आकर्षक और चमकती त्वचा चाहता है | लेकिन आज के युवा गलत खान - पान और रक्त की अशुद्धि के कारण पिम्पल्स , काले घेरे , ब्लैक हेड्स , मुंहासो आदि चहरे की समस्याओ से ग्रषित है | आयुर्वेद के अनुसार रक्त की अशुद्धि के कारण चहरे की इन समस्याओ से ...

READ MORE +
अगर आंखे दुखनी आयी हुई हो तो करे ये उपचार

आँखों का दुखना आँखों के दुखने आने पर हमें बहुत सी परेशानियां झेलनी पड़ती है | यह कोई बड़ा रोग नहीं है फिर भी इससे होने वाली परेशानियाँ बहुत है | आँखे दुखनी आने  पर आँखों में जलन , लालिमा , कीच आना , सिरदर्द  आदि कई उपद्रव होते है | अगर आप की भी आँखे दुखनी आयी हो तो निचे ...

READ MORE +
अतिस – एक चमत्कारिक औषधि | अतिस के फायदे

अतिस - एक चमत्कारिक औषधि  बच्चो के पाचन संस्थान एवं श्वसन संस्थान की यह एक उत्तम औषधि है , जो हिमालय क्षेत्र में पायी जाती है | इसका क्षुप 1 से 3 फुट ऊँचा सीधा शाखाओ से युक्त होता है | इस वनौषधि का ज्ञान हमारे आयुर्वेदाचार्यो को प्राचीन समय से ही था , प्राय सभी रोगों को हरने वाली इस औषधि को ...

READ MORE +
शरपूंखा (प्लीहा शत्रु ) – सामान्य पारिचय एवं औषध उपयोग

शरपूंखा / Tephrosia purpurea persशरपुन्खा सर्वत्र भारत में पाया जाता है | यह मटर के प्रजाति का पौधा है जो क्षुप रूप में 1 से 3 फुट तक ऊँचा होता है | यह प्लीहा रोग की उत्तम औषधि है इसलिए इसे प्लीहा शत्रु भी कहते है | इसे सरफोंका(हिंदी) , शरपुन्खा (संस्कृत), बननिल (बंगाली), उन्हाली ...

READ MORE +
Logo
Compare items
  • Total (0)
Compare
0