अन्य सभी रोग

आनंद भैरव रस (ज्वर) के फायदे / Anand Bhairav Ras Jwar ke fayde

आनंद भैरव रस (ज्वर) के फायदे / Anand Bhairav Ras Jwar ke fayde

बुखार एक सामान्य रोग है, आप सभी कभी न कभी इस रोग से ग्रस्त रहे होंगे | आम तौर पर इस रोग में इस्तेमाल होने वाली दवा है "पेरासिटामोल" क्योंकि यह तापमान को जल्दी कम कर देती है एवं आसानी से सस्ते दामों ...

READ MORE +

कुंकुमादि तैलम बनाने की शास्त्रोक्त विधि – प्राकृतिक सौन्दर्य वर्द्धक तेल के फायदे, उपयोग विधि एवं प्राइस

कुंकुमादि तैलम बनाने की शास्त्रोक्त विधि – प्राकृतिक सौन्दर्य वर्द्धक तेल के फायदे, उपयोग विधि एवं प्राइस

आयुर्वेद में बहुत सी सौदर्य प्रसादन की दवाएं उपलब्ध है | कुंकुमादि तैलम त्वचा के प्राकृतिक सौंदर्य का वर्द्धन करने एवं त्वचा के सामान्य विकार जैसे - कील - मुंहासे, तेलिय त्वचा, दाग - धब्बे आदि को ...

READ MORE +

रूमी मस्तगी की पहचान – फायदे, गुणधर्म || Rumi Mastagi in Hindi

रूमी मस्तगी की पहचान – फायदे, गुणधर्म || Rumi Mastagi in Hindi

कृप्या पूरी जानकारी पढ़ें रूमी मस्तगी के सभी गुण धर्मों का चिकित्सकीय विवरण प्राप्त होगा |रूमी मस्तगी की परिचय - इसे मस्तगी या मस्तकी आदि नामों से जाना जाता है | अंग्रेजी में Mastic एवं लेटिन ...

READ MORE +

ग्लूकोमा रोग के कारण, लक्षण एवं उपचार

ग्लूकोमा रोग के कारण, लक्षण एवं उपचार

ग्लूकोमा आंख का एक रोग होता है जिससे दृश्टि की हानि या अंधता हो सकती है। ग्लूकोमा होने पर, आंख में द्रव की मात्रा बढ़ जाती है जिससे आंख के पृश्ठ भाग पर दबाव पड़ता हैयह दबाव दृश्टि तंत्रिका को नुकसान ...

READ MORE +

गंभारी वनस्पति – जानें इसके फायदे, औषधीय गुण एवं उपयोग के नुस्खे

गंभारी वनस्पति – जानें इसके फायदे, औषधीय गुण एवं उपयोग के नुस्खे

गंभारी / Gmelina arborea in Hindiआयुर्वेद चिकित्सा के ग्रन्थ चरक संहिता के अनुसार पुरातन समय से सुजन को दूर करने एवं वात का शमन करने के लिए गंभारी का प्रयोग किया जाता रहा है | यह वनस्पति ...

READ MORE +

पुनर्नवा मंडूर कैसे बनता है एवं इसके क्या फायदे है ? घटक द्रव्य और उपयोग

पुनर्नवा मंडूर कैसे बनता है एवं इसके क्या फायदे है ? घटक द्रव्य और उपयोग

पुनर्नवा मंडूर आयुर्वेद की शास्त्रोक्त औषधि है |जिसका निर्माण शोद्धित मंडूर एवं पुनर्नवा सहित 18 औषध द्रव्यों के सहयोग से किया जाता है | यहाँ हमने इस दवा की निर्माण विधि, घटक द्रव्य एवं फायदों के ...

READ MORE +

नजला एवं जुकाम में अपनाएं ये 20 प्रमाणित आयुर्वेदिक उपाय

नजला एवं जुकाम में अपनाएं ये 20 प्रमाणित आयुर्वेदिक उपाय

नजला एवं जुकाम में अपनाएं ये 20 घरेलु प्रमाणिक नुस्खे स्वदेशी उपचार नियमित रूप से अपने पाठकों के बीच आयुर्वेद चिकित्सा एवं परम्परागत घरेलु चिकित्सा पद्धति के प्रमाणिक नुस्खे समय - समय पर प्रस्तुत ...

READ MORE +

टॉन्सिल्स (Tonsils in Hindi) – आयुर्वेद के अनुसार कारण, लक्षण एवं इलाज

टॉन्सिल्स (Tonsils in Hindi) – आयुर्वेद के अनुसार कारण, लक्षण एवं इलाज

टॉन्सिल्स (Tonsils in Hindi) - आयुर्वेद के अनुसार कारण, लक्षण एवं इलाज जब मुंह में स्थित टॉन्सिल्स में सुजन आ जाता है तो उसे टोंसिलाइटीस कहते है | आयुर्वेद में इसे तुंडीकेरी शोथ कहा जाता है | यह ...

READ MORE +

अपामार्ग (चिरचिटा) क्या है || जाने इसका सम्पूर्ण परिचय एवं फायदे या उपयोग

अपामार्ग (चिरचिटा) क्या है || जाने इसका सम्पूर्ण परिचय एवं फायदे या उपयोग

अपामार्ग / Apamarg (Achyranthes aspera Linn.) updated - 26/10/2018भारत में वर्षा ऋतू के साथ ही बहुत सी वनौषधियाँ पनपने लगती है | अपामार्ग जिसे चिरचिटा, चिंचडा या लटजीरा आदि नामों से जाना जाता है | ...

READ MORE +

महामाष तेल (निरामिष) के फायदे एवं बनाने की विधि जाने आसान भाषा में

महामाष तेल (निरामिष) के फायदे एवं बनाने की विधि जाने आसान भाषा में

महामाष तेल (निरामिष) / Mahamash Oil  क्या आप महामाष तेल के बारे में जानना चाहते है ? अगर हाँ तो निश्चित रहें इस आर्टिकल में आपको महामाष तेल का शास्त्रोक्त वर्णन मिलेगा | आयुर्वेद चिकित्सा की ...

READ MORE +

हरिद्रा खंड (Hridra Khand) – बनाने की विधि, फायदे एवं स्वास्थ्य उपयोग

हरिद्रा खंड (Hridra Khand) – बनाने की विधि, फायदे एवं स्वास्थ्य उपयोग

हरिद्रा खंड Haridrakhand in Hindi आयुर्वेद की शास्त्रोक्त औषधि है | खुजली में इस आयुर्वेदिक दवा का विशेष उपयोग किया जाता है | शीतपित, त्वचा के चकते, एनीमिया, एलर्जी, विस्फ़ोट एवं कृमिरोग में भी इसके ...

READ MORE +

क्या माहवारी के समय सहवास सही है ?

क्या माहवारी के समय सहवास सही है ?

माहवारी (Menstruation Cycle) मासी - मासी रज: स्त्रीणां रसजं स्रवति त्र्यहम | अर्थात जो रक्त स्त्रियों में हर महीने गर्भास्य से होकर 3 दिन तक बहता है उसे रज या माहवारी कहते है | माहवारी के शुरू होने ...

READ MORE +
Logo
Compare items
  • Total (0)
Compare
0
Open chat
Hello
Can We Help You