आज के परिपेक्ष्य में आयुर्वेद की उपयोगिता

आधुनिकता हर जगह चरम पर पहुँच चुकी है | भारत जैसे देश जहाँ आयुर्वेद का जन्म हुआ, यहाँ भी लोगों ने पश्चिमी संस्कृति...

Continue reading

अतिबला (Abutilon Indicum) – उत्तम बल वर्द्धक आयुर्वेदिक जड़ी – बूटी

आयुर्वेद चिकित्सा में अतिबला को यौन शक्ति वर्द्धक एवं उत्तम धातु पौष्टिक औषधि माना जाता है | यह आयुर्वेद के वाजीक...

Continue reading

कुंकुमादि तैलम बनाने की शास्त्रोक्त विधि – प्राकृतिक सौन्दर्य वर्द्धक तेल के फायदे, उपयोग विधि एवं प्राइस

आयुर्वेद में बहुत सी सौदर्य प्रसादन की दवाएं उपलब्ध है | कुंकुमादि तैलम त्वचा के प्राकृतिक सौंदर्य का वर्द्धन कर...

Continue reading

अल्सर की 5 आयुर्वेदिक दवाएं – पतंजलि, बैद्यनाथ |

अल्सर को घाव कहा जाता है | यह घाव जब आपके अमाशय में हो जाता है तो इसे पेप्टिक अल्सर पुकारा जाता है | घाव शब्द से ...

Continue reading

सिजेरियन डिलीवरी के बाद मासिक धर्म से जुडी खास बातें एवं आयुर्वेदिक केयर

अगर आपकी सिजेरियन डिलीवरी या सी सेक्शन हुआ है तो मासिक धर्म से जुडी कुछ खास बातों को आपको जानलेना चाहिए | आज हम इ...

Continue reading

शंखपुष्पी

शंखपुष्पी के 9 बेहतरीन स्वास्थ्य लाभ या फायदे – Sankhpushpi in Hindi

शंखपुष्पी सरा मेध्या वृष्या मानसरोगहृत |रसायनी कषायोष्ण स्मृतिकान्तिबलप्रदा |दोषापस्मारभूतादिकुष्ठकृमिविषप्राणुत ||

Continue reading

रूमी मस्तगी की पहचान – फायदे, गुणधर्म || Rumi Mastagi in Hindi

रूमी मस्तगी की परिचय - इसे मस्तगी या मस्तकी आदि नामों से जाना जाता है | अंग्रेजी में Mastic एवं लेटिन में Pistaci...

Continue reading

नागकेसर के औषधीय गुण एवं चत्कारिक स्वास्थ्य लाभ

परिचय - इसे नागचम्पा, भुजंगाख्य, हेम, नागपुष्प आदि नामों से भी जाना जाता है | इसका वृक्ष मध्यम आकार का सीधा एवं स...

Continue reading

गोरखमुंडी / Gorakhmundi के 15 अद्भुत फायदे एवं इसकी पहचान, औषधीय गुण धर्म

गोरखमुंडी के पौधे आधे से डेढ़ फीट तक ऊँचे होते है | ये धान के खेतों में अधिकतर देखने को मिलते है | हिमाचल प्रदेश ए...

Continue reading

जानें खुरासानी अजवायन क्या है – गुण धर्म, फायदे एवं उपयोग

हिंदी में इसे खुरासानी अजवायन कहते है | संस्कृत में पारसिक यामानी, तुरुष्का मद्कारिणी आदि नामों से पुकारा जाता है...

Continue reading