ग्लूकोमा रोग के कारण, लक्षण एवं उपचार

ग्लूकोमा आंख का एक रोग होता है जिससे दृश्टि की हानि या अंधता हो सकती है। ग्लूकोमा होने पर, आंख में द्रव की मात्रा...

Continue reading

शीतली प्राणायाम

शीतली प्राणायाम की विधि – लाभ एवं सावधानियां |

शीतली प्राणायामइस प्राणायाम से शरीर का तापमान कम किया जा सकता है | यहाँ प्रयोग किया गया "शीतली" शब्द का अर्थ होता है - ठंडा करना ...

Continue reading

शीर्षासन

शीर्षासन / Shirshasana – विधि , फायदे एवं सावधानियां |

शीर्षासन / Shirshasana योगासनों में सबसे अधिक उपयोगी और फायदेमंद आसन है शीर्षासन | इसीलिए इस आसन को आसनों का राजा भी कहा जाता है | भले ...

Continue reading

नस्य कर्म और इसके फायदे

नस्य कर्म – क्या होता है ? इसकी विधि और फायदे

नस्य कर्म / Nasya Karma ”नासायं भवं नस्यम्“ अर्थात औषधी या औषध सिद्ध स्नेहों को नासामार्ग से दिया जाना नस्य कहलाता है। नस्य का...

Continue reading

सर्वांगासन

सर्वांगासन – विधि, फायदे और सावधानियां

सर्वांगासन परिभाषा- सर्वांगासन शब्द का संधि विच्छेद करने पर यह सर्व+अंग+आसन से मिलकर बना है। सर्व का अर्थ होता है सभी या पूरा और अंग का...

Continue reading

विटामिन ए

विटामिन ए – स्रोत , फायदे और कमी के प्रभाव (Updated)

विटामिन ए क्या है  शरीर को पूर्णत: स्वस्थ रखने के लिए विटामिनो की आवश्यकता होती है | हममें से अधिकतर विटामिन ए के बारे में सिर्फ इतना ...

Continue reading

अक्षितर्पण / नेत्रतर्पण – सामान्य परिचय

अक्षितर्पण  अक्षितर्पण दो शब्दों से मिलकर बना है - अक्षि + तर्पण  | अक्षि से तात्परिय है आँख और  तर्पण का अर्थ है भरना या तृप्त करन...

Continue reading

अगर आंखे दुखनी आयी हुई हो तो करे ये उपचार

आँखों का दुखना आँखों के दुखने आने पर हमें बहुत सी परेशानियां झेलनी पड़ती है | यह कोई बड़ा रोग नहीं है फिर भी इससे होने व...

Continue reading

जिसे आप खरपतवार समझते है वो है गुणों की खान – पुनर्नवा

पुनर्नवा के लाभ  जल्दी ही बरसात का मौसम आने वाला है | इस मौसम में कई आयुर्वेदिक औषधियां फिर से अपना विकास करेंगी जिसमे से एक है -...

Continue reading

आँखों से चस्मा हटाने का आयुर्वेदिक उपचार – इसे अपनी डायरी में लिख ले काम आएगा |

नेत्र ज्योतिवर्धक आँखे हमारी अमूल्य सहयोगी है | इसके बैगर सारा संसार अंधकारमय हो जाता है | इसलिए आँखों को स्वस्थ बनाये रखन...

Continue reading