पंचगुण तेल / Panchguna Taila – बनाने की विधि एवं फायदे

पंचगुण तेल :- यह एक आयुर्वेदिक तेल है जो जोड़ो के दर्द, कान दर्द, व्रण (घाव) के उपचार एवं अन्य वात व्याधियों के का...

Continue reading

अभयारिष्ट (Abhyarishta) सिरप – फायदे, घटक द्रव्य एवं निर्माण विधि

अभयारिष्ट Abhyarishta in Hindi :- आयुर्वेद में आसव एवं अरिष्ट कल्पना की औषधियों का अपना एक अलग महत्व है | ये दवाए...

Continue reading

2020 Pushya Nakshatra Dates & Time Hindi

पुष्य नक्षत्र को हिन्दू धर्म अनुसार अति शुभ घड़ी मानी जाती है |इस दिन सभी शुभ कार्य किये जा सकते है | ज्योतिष के स...

Continue reading

ग्वारपाठे के लड्डू – गोखरू एवं गोंद मिलाकर बनायें

ग्वारपाठे के लड्डू :- सर्दियों के मौसम में हमारे यहाँ लड्डू, पाक आदि स्वास्थ्य वर्द्धक पकवानों का चलन रहता है | आ...

Continue reading

समीर पन्नग रस के फायदे, बनाने की विधि एवं सावधानियां

समीर पन्नग रस आयुर्वेद की शास्त्रोक्त दवा है | इसे न्युमोनिया, श्वांस, कास, बुखार एवं संधिवात जैसे रोगों में प्रय...

Continue reading

गोदंती भस्म

गोदंती भस्म के उपयोग एवं बनाने की विधि (अपडेटेड)

गोदंती भस्म Godanti Bhasma in Hindi आयुर्वेद चिकित्सा की महत्वपूर्ण एंटीफीवर दवा है | यह बुखार, जीर्ण ज्वर (पुरा...

Continue reading

सत्यानाशी / स्वर्णक्षीरी / Mexican Prickly Poppy

भारत के प्रत्येक राज्य में सत्यानाशी के पौधे देखने को मिल जाते है | ये खाली पड़ी जमीन, जंगल, बंजर भूमि एवं मैदानों...

Continue reading

जानें प्रवाल पिष्टी कैसे बनती है ?

प्रवाल पिष्टी प्रवाल अर्थात जिसे मूंगा (Corallium Rubrum) भी कहते से बनने वाली एक आयुर्वेदिक दवा है | यह अत्यंत ठ...

Continue reading

वाराहीकंद / Dioscorea Detail in Hindi

वाराहीकंद जिसे जिमीकंद, डुक्करकंद एवं रतालू आदि नामों से जाना जाता है यह अफ्रीका एवं चीनी क्षेत्रों का देशज पौधा ...

Continue reading