भूमि आंवला (भू धात्री) की पहचान, सेवन विधि एवं फायदे

भूमि आंवला

भूमि आंवला (भुई आमला) की पहचान, सेवन विधि एवं फायदे परिचय – प्राय: सम्पूर्ण भारत में उगने वाला एक औषधीय पौधा है | यह वर्षा ऋतू अर्थात सावन के महीने में अपने आप ही खाली पड़ी जमीन, जंगल एवं सड़क Read More …

कुमार्यासव / Kumaryasava – उपयोग, फायदे एवं निर्माण विधि का सम्पूर्ण वर्णन पढ़ें

कुमार्यासव

कुमार्यासव / कुमारी आसव / Kumaryasava  कुमार्यासव / Kumaryasava in Hindi – आयुर्वेद की यह औषधि आसव निर्माण विधि से तैयार की जाती है | इसका मुख्य घटक द्रव्य घृतकुमारी (ग्वारपाठा) है | घृतकुमारी मुख्य द्रव होने के कारण इसे Read More …

पीलिया रोग (Viral Hepatitis) – कारण, लक्षण, इलाज एवं आहार (पीलिया में क्या खाएं)

पीलिया

पीलिया (Jaundice in Hindi) परिचय – पीलिया यकृत की विकृति अर्थात यकृत के रोगग्रस्त होने के कारण होने वाला रोग है | यकृत के रोग ग्रस्त होने के बाद सबसे पहले लक्षण के रूप में पीलिया (Jaundice) ही प्रकट होता Read More …

आरोग्यवर्धिनी वटी – फायदे, परिचय और शास्त्रोक्त निर्माण विधि

आरोग्यवर्धिनी वटी

आरोग्यवर्धिनी वटी / Arogyvardhini vati आयुर्वेद में वटी कल्पना का प्रयोग रोगों के शमन के लिए किया जाता है | आरोग्यवर्धिनी वटी का अर्थ होता है आरोग्य का वर्द्धन करने वाली | इसे आरोग्यवर्धिनी रस भी कहते है | यह Read More …

लीवर सिरोसिस / Liver Cirrhosis – पहचान, कारण, लक्षण एवं इलाज

लीवर सिरोसिस का इलाज

लीवर सिरोसिस का इलाज / Liver Cirrhosis in Hindi परिचय – लीवर अर्थात यकृत हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है | शरीर की अशुद्धियों को दूर करने में इसका अपना अहम् भाग होता है | लेकिन व्यक्ति अपनी Read More …