काली खांसी

चित्रक हरीतकी अवलेह बनाने की विधि, घटक द्रव्य एवं इसके फायदे

चित्रक हरीतकी अवलेह बनाने की विधि, घटक द्रव्य एवं इसके फायदे

चित्रक हरीतकी अवलेह आयुर्वेद की शास्त्रोक्त औषधि है | इसे आयुर्वेदिक ग्रन्थ भैषज्य रत्नावली के नासरोगाधिकार से लिया गया है | यह कफज व्याधियों की उत्तम आयुर्वेदिक दवा है | जुकाम, साइनस एवं खांसी आदि ...

READ MORE +

खांसी को ख़त्म करने वाले सुगम घरेलु उपाय

खांसी को ख़त्म करने  वाले सुगम घरेलु उपाय

खांसी को आयुर्वेद में 'कास' के नाम से पुकारा जाता है | खांसी का सीधा सम्बन्ध फेफड़ो से होता है | यह फेफड़ों की प्राकृतिक प्रक्रिया है जब श्वसन संस्थान अर्थात फेफड़ों एवं श्वांस लेने में सहयोगी अन्य ...

READ MORE +

बच्चों की खांसी की आयुर्वेदिक दवा – खांसी नाशिनी वटी (घरेलु)

बच्चों की खांसी की आयुर्वेदिक दवा – खांसी नाशिनी वटी (घरेलु)

बच्चों की खांसी की आयुर्वेदिक दवा सर्दियों के मौसम में खांसी आदि कफज विकारों का प्रकोप अधिक रहता है | खासतौर पर बच्चे इस मौसम में सबसे अधिक खांसी की समस्या से पीड़ित रहते है | सर्दी लगने, जुकाम, दमे ...

READ MORE +

शहद के 15 चमत्कारिक नुस्खें – इन्हें अपनाएं और स्वस्थ रहें |

शहद के 15 चमत्कारिक नुस्खें – इन्हें अपनाएं और स्वस्थ रहें |

शहद के 15 चमत्कारिक नुस्खें भारतीय घरों में शहद भी एक आवश्यक सामग्री में गिना जाता है | प्राचीन समय से ही हमारे यहाँ शहद से उपचार एवं मिठास के लिए प्रयोग किया जाता रहा है | इसकी मिठाश से तो हर कोई ...

READ MORE +

अपामार्ग (चिरचिटा) क्या है || जाने इसका सम्पूर्ण परिचय एवं फायदे या उपयोग

अपामार्ग (चिरचिटा) क्या है || जाने इसका सम्पूर्ण परिचय एवं फायदे या उपयोग

अपामार्ग / Apamarg (Achyranthes aspera Linn.) updated - 26/10/2018भारत में वर्षा ऋतू के साथ ही बहुत सी वनौषधियाँ पनपने लगती है | अपामार्ग जिसे चिरचिटा, चिंचडा या लटजीरा आदि नामों से जाना जाता है | ...

READ MORE +

खांसी होने पर अपनाये एक्यूप्रेशर और ये घरेलु उपचार या इलाज

खांसी होने पर अपनाये एक्यूप्रेशर और ये घरेलु उपचार या इलाज

खांसी सर्दियोें मे होने वाली एक आम समस्या है। भले ही शुरूआती स्टेज में यह कोई बड़ा रोग प्रतित न हो लेकिन उपचार में देरी और आहार में लापरवाही के कारण भंयकर रोगों के रूप में परिवर्तित हो जाती है। लम्बे ...

READ MORE +

सितोपलादि चूर्ण – बनाने की विधि, सेवन मात्रा और इसके फायदे |

सितोपलादि चूर्ण – बनाने की विधि, सेवन मात्रा और इसके फायदे |

सितोपलादि चूर्ण आयुर्वेद में श्वसन तंत्र से सम्बंधित समस्याओं जैसे - अस्थमा, जुकाम, खांसी, कफज बुखार आदि में इसका प्रचुरता से उपयोग किया जाता है | पाचन सम्बन्धी रोगों में भी यह काफी फायदेमंद है | ...

READ MORE +

काली / कुकर खांसी – कारण , लक्षण और काली खांसी के उपाय |

काली / कुकर खांसी – कारण , लक्षण और काली खांसी के उपाय |

कुकर / काली खांसी (Pertussis) / Whooping cough कुकर खांसी को साधारण भाषा में कुत्ता खांसी या काली खांसी भी कहते है | यह ज्यादातर बसंत या शरद ऋतू में अधिकतया होती है | 5 से कम उम्र के बालक इस रोग से ...

READ MORE +
Logo
Compare items
  • Total (0)
Compare
0