Ayurvedic Medicine List for Constipation – कब्ज की आयुर्वेदिक दवाइयां |

Ayurvedic Medicine List for Constipation in Hindi

Ayurvedic Medicine List for Constipation – कब्ज आज कल एक आम समस्या बन कर उभरी है | सुनने में भले ही यह रोग सामान्य लगता हो लेकिन जो इस रोग से प्रभावित है उनकी वास्तविक दशा बहुत दुःखदायी होती है | कब्ज से पीड़ित व्यक्ति बहुत से रोगों को आमंत्रित करते है | आयुर्वेद में कहा भी गया है की लगभग अधिकतर रोग पेट के रास्ते पनपते है | कब्ज भी हमारे पाचन और पेट का एक गंभीर रोग है |

ayurvedic medicine for constipation

अनियमित जीवनशैली, खान – पान, नशे का सेवन, कमजोर आंते, गरिष्ठ भोजन, देर रात तक जागना, तनाव आदि कारण है जो कब्ज के हेतु बनते है | Ayurvedic Medicine List for Constipation इस रोग में व्यक्ति ठीक ढंग से मल त्याग नहीं कर सकता , व्यक्ति बार – बार मल त्याग को जाता है लेकिन फिर भी ठीक ढंग से मल त्याग नहीं होता | जब आंतो में अवशिष्ट मल पड़ा रहता है तो यह सडन के साथ आंतो में इन्फेक्शन भी पैदा करता है | इससे पीड़ित व्यक्ति दिनभर आलस और सिरदर्द से झुझता रहता है | भोजन में अरुचि, वमन और अग्निमंध्य जैसे लक्षण प्रकट होने लगते है | धीरे – धीरे रोग की अवस्था बढ़ने पर व्यक्ति अन्य कई समस्याओं से ग्रषित होने लगता है | इस लेख में हमने कब्ज आदि में दी जाने वाली आयुर्वेदिक दवाइयां बताई है | सभी उत्पाद श्री मोहता आयुर्वेद रसायन शाला एवं डाबर कंपनी के है | यह आर्टिकल महज आपके ज्ञान वर्द्धन के लिए है अत: उपचार के लिए अपने नजदीकी आयुर्वेदिक चिकित्सक से सम्पर्क करें | 

Ayurvedic Medicine List for ConstipationAyurvedic Medicine for Constipation की लिस्ट यहाँ देख सकते है –

Medicene Name / दवाइयों के नामProperties / गुणधर्मIngredient / घटकद्रव्यDose / सेवन मात्राCompany / कंपनी
पोचाना सिरपआमदोष नाशक, अग्निदीपक, कब्ज नाशक है एवं पाचन शक्ति ठीक करने में उपयोगीसौंठ, धनिया, मिर्च, अम्लवेत, पीपल, तींतडिक, चव्य, सज्जीक्षार, चित्रकछाल, समुद्र नमक, जीरा सफ़ेद, सेंधा नमक, खांड |5 से 10 मि.ली. दिन में दो बार या चिकित्सक के परामर्शनुसार |Shree Mohta
फेमलिन फोर्टकब्ज, अरुचि और दौर्बल्यता में उपयोगीअंगूर स्वरस, सौंठ, मिर्च, पीपल छोटी, वायविडंग, तेजपात, बड़ी इलायची, फुलप्रियंगु, नागकेशर और शर्करा आदि |10 से 20 ML समभाग जल से दिन में दो बार भोजन के बाद या चिकित्सक के परामर्शनुसारShree Mohta
अश्वकंचुकी रसविरेचक अर्थात कब्ज में उपयोगी, यकृत प्लीहा रोग एवं रसायनकज्जली, शुद्ध जयपाल, त्रिफला, त्रिकटु, शुद्ध श्रंगीविष आदि1 से 2 गोली जल के साथ या चिकित्सक के परामर्शनुसारShree Mohta
त्रिफलारिष्टसभी प्रकार के उदर रोगों में उपयोगी, कब्ज एवं अर्श आदि रोग में उपयोगीहरड, बहेड़ा, आंवला, पीपल, चित्रक, वायविडंग आदि |10 ML में समभाग पानी मिलाकर या चिकित्सक के परामर्शनुसारShree Mohta, Dabur, Patanjali, Baidyanath
आरग्वधलेहकब्ज नाशक, अग्नि प्रदीपक और अम्लपित में उपयोगीअमलतास गुदा, दालचीनी, कालीमिर्च, बड़ी इलायची , मुन्नका आदि |5 से 10 ग्राम जल से या चिकित्सक के परामर्शनुसारShree Mohta
इच्छाभेदी रसपुराने कब्ज और खून को साफ़ करने में उपयोगी |सोंठ, सुहागा फुला, शुद्ध जयपाल1 गोली ठन्डे जल के साथ या चिकित्सक के निर्देशानुसारDabur, Shree Mohta, Baidynath, Patanjali
हरीतकी चूर्णकब्ज दूर करने में उपयोगी एवं रसायनहरड छिलका1 से 3 ग्राम सोते समय या चिकित्सक के निर्देशानुसारShree Mohta, Dabur, Patanjali, Baidynath
मधुकादि चूर्णकब्ज नाशक, उदावर्त नाशकसनाय, मुलहठी, सौंफ, शुद्ध गंधक आदि |3 से 5 ग्राम गर्म दूध या पानी के साथ चिकित्सक के निर्देशानुसार |Shree Mohta
पंचसकार चूर्णकब्ज एवं पेट में गैस की लोकप्रिय आयुर्वेदिक मेडिसिनसेंधा नमक, सौंठ और हरड आदि3 से 5 ग्राम सोते समय गरम जल के साथ या चिकित्सक के निर्देशानुसार |Shree Mohta, Dabur, Baidynath, Patanjali
Dabur Lixirid Tabletsकब्ज के लिए डाबर की सर्वाधिक उपयोगी वटीस्वर्णपत्री, यावनी आदि |1 से 2 टेबलेट्स रात्रि में सोते समय या चिकित्सक के परामर्शानुसार |Dabur
तरुणीकुसुमाकर चूर्णकब्ज और उदावर्त में उपयोगी |सनाय, गुलाब, सेंधा नमक हरड आदि |3 से 5 ग्राम सोते समय या चिकित्सक के परामर्शनुसार |Shree Mohta, Dabur,
सेवती रेचन चूर्णसामान्य कब्ज में उपयोगीसनाय, गुलाबफुल, चीनी आदि3 से 5 ग्राम गुनगुने दूध से रात्रि में सोते समय या चिकित्सक के परामर्शनुसार |Shree Mohta
डाबर अभ्यारिष्टपाचन सुधारने, कब्ज, यकृत की समस्या एवं पाईल्स आदि में उपयोगीअभय, द्राक्षा, विडंग, मधुका,गोखरू, सोंठ, मधुरिका, धान्य आदि |1 से 2 चम्मच सामान मात्रा में पानी के साथDabur
डाबर त्रिफगोल चूर्णकब्ज एवं एक्ने में उपयोगीइसबगोल और त्रिफला1 चम्मच गुनगुने पानी के साथDabur
शांति वर्द्धक चूर्णअजीर्ण, आफरा और कब्ज में उपयोगी चूर्णसौंठ, कालीमिर्च, पीपल, लौंग, बड़ी इलायची, निम्बू सत्व, सौर्वचल नमक, नौसादर और स्वर्ण गैरिक आदि |1 से 2 ग्राम भोजन के बाद जल से चिकित्सक के परामर्शनुसार |Shree Mohta

One thought on “Ayurvedic Medicine List for Constipation – कब्ज की आयुर्वेदिक दवाइयां |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

जानें आहार के 15 नियम हमेंशा इनका पालन करके ही आहार ग्रहण करना चाहिए

प्रत्येक व्यक्ति के लिए ये नियम लागु होते है इन्हें सभी को अपनाना चाहिए पढ़ें अधिक 

Open chat
Hello
Can We Help You