Mail : treatayurveda@gmail.com

बूढों को जवान करने वाला घरेलू नुस्खा  – जरुर आजमाए

बुढ़ापे को दूर करने के घरेलु उपाय
एक उम्र के बाद मनुष्य को बुढ़ापा घेर लेता है | शारीरिक क्षमता में कमी आना ही एक प्रकार से बुढ़ापा कहलाता है | बुढ़ापे में शरीर की कार्य शक्ति क्षीण हो जाती है एवं मनुष्य अपने आप को असमर्थ समझता है | प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति में बहुत से एसे प्रयोग या नुस्खे है जिनको आजमा कर आप बुढ़ापे से काफी हद तक निजात पा सकते है |

बुढ़ापा भगाने में करे लहसुन का यह प्रयोग

इस प्रयोग को करने से पहले आप को तीन दिन तक उपवास करना चाहिए | उपवास के समय अपना मन धर्म और ध्यान में लगाये रखे | चौथे दिन लहसुन की चार पोथियाँ ले और इन्हें कूट कर इनका रस निकाल ले , इस रस  को थोड़े से पानी में मिलाकर दिन में चार बार सेवन करे | लहसुन का रस पीने के एक घंटे बाद ऊपर से दो चम्मच देशी घी या मक्खन खाए | इस प्रयोग को निरंतर चार दिन तक करे |
आठवे दिन लहसुन के रस में शहद मिलाकर सेवन करे , ध्यान दे अब यह प्रयोग पुरे एक सप्ताह तक करना है और पूर्व की तरह लहसुन के रस का दिन में चार बार प्रयोग करना है | ऊपर से देशी घी या मक्खन की दो चम्मच भी यथावत लेते रहनी है |
सोलहवें दिन से चार लहसुन की कलियों के साथ 8 मुन्नका पिस कर पानी मिलाकर सेवन करना है | यह प्रयोग भी एक सप्ताह तक करना है , लेकिन इस समय के दौरान आप घी या मक्खन का इस्तेमला बंद कर दे |
चौबीसवें दिन से लहसुन की 4 पोथियों पिसकर 3 आंवलो का रस मिलाकर नित्य चार समय सेवन करे | इसका प्रयोग भी 1 सप्ताह तक निरंतर करे |
दुसरे महीने में दूध का सेवन करे और लहसुन के तेल की मालिश नित्य रूप से करे |
तीसरे महीने से आठ लहसुन की पोथियाँ , 2 चम्मच शहद और 10 बीज निकाली हुई मुन्नका को पीसकर आधा कप आंवले के रस के साथ रोज सुबह के समय पुरे 1 महीने तक खाए |
पुरे तीन महीने के इन प्रयोगों से आप बुढ़ापे से मुक्ति पा लेंगे | शरीर फिर से युवा दिखने लगेगा एवं सभी प्रकार के रोगों से मुक्ति मिलेगी | इन नुस्खो के प्रयोग के दौरान धार्मिक दिन्चरिया का पालन अवश्य करे |
धन्यवाद |
Content Protection by DMCA.com
Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Shopping cart

0

No products in the cart.

+918000733602