बियर योगा – दुनिया में फ़ैल रहा है इसका क्रेज


बियर योग 

योग के विभिन्न आसनों के बारे में तो आपको पता ही होगा , लेकिन क्या अपने कभी सुना है की बियर पीकर भी योग करते है ? जी हाँ आस्ट्रेलिया में बियर योग का प्रचलन  काफी बढ़ गया है और अब इसे अन्य पश्चिमी देश भी अपना रहे है | जो लोग बियर और शराब से नफरत करते है शायद उन्हें ये पोस्ट अच्छी ना लगे, लेकिन  आस्ट्रेलिया में बियर योगा तेजी से फेमस हो रहा है | बियर योग के स्वास्थ्य लाभ भी है तभी यह इतनी तीव्रता से आस्ट्रेलिया में फ़ैल रहा है | एक रिपोर्ट के अनुसार बियर योग की खोज इसलिए की गई ताकि व्यक्ति अपनी चेतना के उच्चतम स्तर पर पंहुच सके और योग का फायदा उठा सके | अगर आप व्यस्क  है तो बियर योगा कर सकते है |

बियर योग के फायदे

कैसे किया जाता है बियर योग 

बियर योग शूरू करने से पहले थोड़ी बियर पिलाई जाती है | जो मन को शांति और शुकून देती है | बियर योग में लोग सिर्फ बियर को पीते ही नहीं बल्कि उसे अपने सिर पर भी रखते है | सिर पर बियर रखने के बाद उनको अपनी बोटेल या  गलास को बैलेंस भी करना पड़ता है | बियर योग के लिए एक साईट भी बनाई गई है | बियर योग को आप मजाक न समझे यह एक योग और मनोरंजन का मेल है | अभी हाल ही में सिडनी में बियर योग के दो सत्र आयोजित किये गए जिनमे छात्रों को “बियर नमस्कार” और अपने सिर पर बियर को संतुलित करना था | 

बियर योग के फायदे

अगर आप बियर योग में शामिल होना चाहते है तो आपको किसी योग की जानकारी होना जरुरी नहीं है बस आप खुले विचारों वाले हों और बियर से आपको प्यार हो |

बियर योग के फायदे भी है 


बियर योग के फायदे

बियर योग की शुरुआत फ्रांस में हुई थी और अब इसके फायदों को देखते हुए यह आस्ट्रेलिया और थाईलैंड में पोपुलर होता जा रहा है | बियर योग के जानकार मानते है की यह बॉडी को फिट रखने की सबसे पुरानी थेरेपी है | वैसे ज्यादातर लोग बियर को फैट बढ़ाने वाला पेय मानते है | लेकिन बियर योग करने वाले इसे मोटापा घटने और फिट रहने का सबसे सरल उपाय मान रहे है | बियर योग के संस्थापक मानते है की बियर और योग दोनों ही सबसे प्राचीन फिटनेस प्रारूप है | बियर और योग दोनों ही शरीर , मन और आत्मा को शांति प्रदान करते है |

यह पोस्ट इन्टरनेट पर उपलब्ध न्यूज़ से संकलित की गई है |  स्वदेशी उपचार किसी भी तरीके से इस नोटंकी योग  ( बियर योग ) का समर्थन नहीं करता |

“पाश्च्यात्य सभ्यता को देखते हुए यह कोई बड़े ताजुब का प्रसंग नहीं है ! क्योकि विदेशी संस्कृति ने भले ही योग और आयुर्वेद को बहुत प्रगाढ़ता से अपनाया हो लेकिन बहुत सी जगह वो खुद धोखा खा रहे है | पाश्च्यात्य देशो ने भारत से योग और आयुर्वेद की आधी अधूरी जानकारी लेकर अपने देशों में इसे स्थापित तो कर लिया , लेकिन इनके मूल सिद्धांत भूल गए | अब बियर योग को ही ले ले | कुछ लोगों ने योग के नाम पर अपना धंधा स्थापित किया है और वो भी शराबियों के लिए | 
योग का प्रयोजन होता है की आप योग से अपने ध्यान, तत्व बोध और आत्मबोद्ध को बढ़ाये एवं शरीर को स्वस्थ रखे | लेकिन इन प्रगांड पाश्च्यात्य विद्वानों ने इसका भी मजाक बना दिया |”

बियर योगा के साइड इफेक्ट जरुर देखे –


बियर योग के साइड इफेक्ट
खतरनाक आसन 



बियर योग के साइड इफेक्ट
ये है – धम्म पड़ाशन

धन्यवाद |

Related Post

घर पर बनाये ये आयुर्वेदिक फेसपैक और पाए चमकती त्वच... multani mitti face pack for fairness आज के युग में हर कोई आकर्षक और चमकती त्वचा चाहता है | लेकिन आज के युवा गलत खान - पान और रक्त की अशुद्धि के कार...
बवासीर (Hemorrhoids) – आयुर्वेद के अनुसार बव... बवासीर रोग / Haemorrhoids "अरिवत प्राणान शृंणाती इति अर्श: | " बवासीर को अर्श और पाइल्स के नाम से भी जानते है | आयुर्वेद में कहा गया है कि शरीर में ...
मकोय : परिचय एवं चमत्कारिक स्वास्थ्य लाभ... मकोय का परिचय लगभग सम्पूर्ण भारत में पायी जाने वाली वनस्पति है जो अधिकतर आद्र और छायादार जगहों पर उगती है, इसके पौधे की अधिकतम लम्बाई 2 से 2.5 फीट ...
नस्य कर्म – क्या होता है ? इसकी विधि और फायद... नस्य कर्म / Nasya Karma ”नासायं भवं नस्यम्“  नस्य कर्म अर्थात औषधी या औषध सिद्ध स्नेहों को नासामार्ग से दिया जाना नस्य कहलाता है। नस्य का दूसर...
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.