सैन्धवादी चूर्ण बनाने की विधि

सैन्धवादी चूर्ण बनाने की विधि

विधि – सेंधा नमक, कालीमिर्च और फूली हुई फिटकरी 10-10 ग्राम तथा कपूर व अफीम 2-2 ग्राम | इन सब को कूट पिस कर चूर्ण बना ले | सैन्धवादी चूर्ण तैयार है |
मात्रा एवं सेवन विधि –  यह चूर्ण दाढ़ एवं दांत के रोगों के लिए लाभकारी है | अगर दांत में दर्द हो तो जरा सा चूर्ण दांतों पर सुबह – शाम रगड़े |
लाभ – इस चूर्ण को मसुडो पर मलने से खून आना , दांतों का टीसना तथा दांतों में दर्द होना बंद हो जाता है |

Related Post

नारायण चूर्ण बनाने की विधि... नारायण चूर्ण नारायण चूर्ण बनाने की विधि - नारायण चूर्ण बनाने के लिए सबसे पहले छोटी पीपल - 10 ग्राम , निशोथ - 50 ग्राम और देशी कच्ची खांड - 100 ग्रा...
आखिर क्यों पहनती है विवाहित महिलाये चाँदी की पायल ... चूड़ी, पायल और बिछिया पहनने के पीछे है वैज्ञानिक कारण | सम्पूर्ण भारत में विवाहित स्त्रियाँ विभिन्न धर्मो के अनुसार अपने सोलह श्रंगार करने में अलग...
हल्दी के फायदे और औषधीय गुण – परिचय, उपयोग,... हल्दी / Haldi (Turmeric) भारतीय चिकित्सा पद्धति में हल्दी का प्रयोग प्राचीन समय से ही होता आया है | घरेलु नुस्खों में भी हल्दी का स्थान सबसे ऊपर है |...
शरपूंखा (प्लीहा शत्रु ) – सामान्य पारिचय एवं... शरपूंखा / Tephrosia purpurea pers शरपुन्खा सर्वत्र भारत में पाया जाता है | यह मटर के प्रजाति का पौधा है जो क्षुप रूप में 1 से 3 फुट तक ऊँचा ह...
Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.