Category: mahilao ke rog

केसर के फायदे और गुण धर्म 0

केसर परिचय – केसर के स्वास्थ्य लाभ और गुण धर्म |

केसर केसर के इस्तेमाल से होने वाले स्वास्थ्य लाभों से प्राय सभी परिचित है | गुणों की द्रष्टि से देखा जाए तो केसर आयुवर्द्धक , बजिकारक , उतेजक , मेध्य आदि से भरपूर होती...

0

महिला गुप्तांग ( योनी ) के ढीलेपन का प्रमाणिक उपाय – महिलाये जरुर आजमाए

महिला गुप्तांग ( योनी ) के ढीलेपन का प्रमाणिक इलाज / उपचार  वैवाहिक जीवन में आनंद और खुशियों के लिए जरुरी है की पति और पत्नी दोनों का स्वास्थ्य अच्छा हो | अगर दोनों...

0

दशमूल काढ़ा : गर्भावस्था जन्य रोगों में चमत्कारिक औषधि

स्वास्थ्य संवर्धन एवं रोग निवारण के लिए आयुर्वेद में कई विधाओं का उपयोग किया जाता है जैसे – रस – भस्म , वटी , चूर्ण , आसव , अरिष्ट , अवलेह एवं क्वाथ आदि...

0

Dysmenorrhoea (कष्टार्तव ) का आयुर्वेदिक इलाज

Dysmenorrhoea  (कष्टार्तव )  महिलाओ में मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द को कष्टार्तव ( Dysmenorrhoea ) कहते है | महिलाओ के शरीर में चक्रीय हार्मोन्स में होने वाले  बदलावों की वजह से शरीर...

0

प्रदर रोग – प्रकार , कारण और उपचार – Leucorrhoea & Metrorrhagia

प्रदर रोग  जब योनी मार्ग से पतला या गाढ़ा स्राव कम या अधिक मात्रा में बिना किसी कारण के निकलने लग जावे तो उसे प्रदर रोग कहते है | प्रदर रोग दो प्रकार का...

0

एक आयुर्वेदिक तेल जो स्तनों को कर देगा – पहाड़ जैसा कठोर ( Home Remedies for Breast Tightness )

स्तनों का ढीलापन  स्त्रियों के लिए जिस प्रकार छोटे स्तन समस्या है उसी प्रकार बढे हुए स्तन भी महिलाओ के सौन्द्रिये पर विपरीत असर डालते है | स्त्री के सौन्दर्य में स्तनों का शेप बहुत...

0

जाने माहवारी के समय क्यों नहीं करना चाहिए – सेक्स ( सहवास)

माहवारी ( Menstruation Cycle ) मासी – मासी रज: स्त्रीणां रसजं स्रवति त्र्यहम | अर्थात जो रक्त स्त्रियों में हर महीने गर्भास्य से होकर 3 दिन तक बहता है उसे रज या माहवारी कहते...

0

मासिक धर्म का रुक – रुक के आना – अनियमित माहवारी

अनियमित मासिक धर्म  आज की इस post में हम आज आपको बताएँगे  महिलाओ की आम समस्या – अनियमित माशिक धर्म या मासिक धर्म का रुक रुक के आने की समस्या के बारे में |...