Category: mahilao ke rog

आयुर्वेद के अनुसार गर्भवती की डाइट प्लान 0

आयुर्वेदानुसार गर्भवती महिला के लिए आहार एवं औषध की व्यवस्था |

गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान अपने आहार का ध्यान रखना भी परम आवश्यक है | गर्भावस्था महिला के जीवन की एसी अवस्था होती है , जो गर्भवती एवं शिशु दोनों की वर्द्धि और...

गर्भावस्था के 9 महीने 0

गर्भावस्था / Pregnancy के 9 महीने – बच्चे एवं माता का विकास एवं शारीरिक परिवर्तन

गर्भावस्था के 9 महीने / 9 Months of Pregnancy in Hindi गर्भावस्था के 9 महीने – गर्भधारण करना किसी महिला के जीवन का सबसे सुखद अनुभव है | गर्भधारण होने के बाद महिला के...

एनीमिया 0

एनीमिया / Anemia क्या है – इसके प्रकार, लक्षण, एवं आयुर्वेदिक उपचार

एनीमिया  / Anemia in Hindi साधारण शब्दों में एनीमिया को रक्ताल्पता या पांडू रोग कहा जाता है | एनीमिया वस्तुत: रक्त से जुडी बीमारी है , जिसमे रक्त में उपस्थित हिमोग्लोबिन की मात्रा को...

प्रेगनेंसी के लक्षण 0

प्रेगनेंसी में पहले 12 सप्ताह (Weeks) के लक्षण – Diagnosis of Early Pregnancy

प्रेगनेंसी के शुरूआती सप्ताह के लक्षण  पुरुष एवं महिला में सम्भोग होने के बाद निषेचन की क्रिया होती है | जैसे – जैसे समय बीतता जाता है महिला में प्रेगनेंसी के लक्षण प्रकट होने...

धनुरासन 0

धनुरासन – करने की विधि, लाभ और सावधानियां

धनुरासन धनुरासन का अर्थ होता है धनुष के समान। धनुर और आसन शब्दों के मिलने से धनुरासन बनता है। यहां धनुर का अर्थ है धनुष। इस आसन में साधक की आकृति धनुष के समान...

केसर के फायदे और गुण धर्म 0

केसर परिचय – केसर के स्वास्थ्य लाभ और गुण धर्म |

केसर केसर के इस्तेमाल से होने वाले स्वास्थ्य लाभों से प्राय सभी परिचित है | गुणों की द्रष्टि से देखा जाए तो केसर आयुवर्द्धक , बजिकारक , उतेजक , मेध्य आदि से भरपूर होती...

0

महिला गुप्तांग के ढीलेपन का प्रमाणिक उपाय – जरुर आजमाए

महिला गुप्तांग के ढीलेपन का प्रमाणिक इलाज / उपचार     वैवाहिक जीवन में आनंद और खुशियों के लिए जरुरी है की पति और पत्नी दोनों का स्वास्थ्य अच्छा हो | अगर दोनों में...

0

दशमूल काढ़ा : गर्भावस्था जन्य रोगों में चमत्कारिक औषधि

स्वास्थ्य संवर्धन एवं रोग निवारण के लिए आयुर्वेद में कई विधाओं का उपयोग किया जाता है जैसे – रस – भस्म , वटी , चूर्ण , आसव , अरिष्ट , अवलेह एवं क्वाथ आदि...

0

Dysmenorrhoea (कष्टार्तव ) का आयुर्वेदिक इलाज

Dysmenorrhoea  (कष्टार्तव )  महिलाओ में मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द को कष्टार्तव ( Dysmenorrhoea ) कहते है | महिलाओ के शरीर में चक्रीय हार्मोन्स में होने वाले  बदलावों की वजह से शरीर...

0

प्रदर रोग – प्रकार , कारण और उपचार – Leucorrhoea & Metrorrhagia (updated)

प्रदर रोग / Leucorrhoea & Metrorrhagia in Hindi जब योनी मार्ग से पतला या गाढ़ा स्राव (रक्त रूपी या सफ़ेद पानी के रूप में ) कम या अधिक मात्रा में बिना किसी कारण के...